Monday, September 11, 2017

प्राइवेट स्कूल पेरेंट्स की जेंबे और बच्चों के गले काटते हैं ; हरियाणा अभिभावक एकता मंच


haryana-abhibhavak-ekta-manch-statement-private-school

फरीदाबाद 11 सितम्बर(abtaknews.com ) हरियाणा अभिभावक एकता मंच ने प्राइवेट स्कूलों को पेरेंट्स की जेंबे और बच्चों के गले काटने वाला बताते हुए रोष व्यक्त किया।  मंच द्वारा छात्र व अभिभावकों के साथ लगातार किए जा रहे आर्थिक, शारीरिक व मानसिक शोषण और उन्हें मिल रहे नेता व अधिकारियों के संरक्षण की उच्च अधिकार प्राप्त कमेटी से जांच कराने व सभी स्कूलों में सुरक्षा के सभी मानकों को पूरा कराने की मांग का राज्यपाल के नाम ज्ञापन उपायुक्त फरीदाबाद को सौंपा। ज्ञापन में मांग की गई है कि सभी स्कूलों में छात्रों को दी जाने वाली सभी सुविधाओं की सत्यता की जांच करके उन्हें ठीक कराया जाए। स्कूलों के अंदर ठेके पर रखे जाने वाले कर्मचारियों को हटाकर योग्यता के आधार पर उन्हें रखा जाये और उनकी पुलिस वेरीफिकेशन कराई जाए। एक कक्षा में 40 से अधिक छात्र-छात्राओं को बैठाने पर रोक लगाई जाए। बसों के अंदर क्षमता से अधिक बच्चों को बैठाने पर रोक तथा उसमें ट्रेन्ड ड्रायवर कन्डेक्टर रखे जाएं तथा महिला सहायक की मौजूदगी रखी जाए। अभिभावकों से वसूली जाने वाली फीस व फण्ड के सदुपयोग व दुरुपयोग की सीएजी के ऑडिटर से जांच कराई जाए। मंच के जिला अध्यक्ष एडवोकेट शिवकुमार जोशी के नेतृत्व में राज्यपाल महोदय को भेजे गए ज्ञापन की प्रति मंच द्वारा फरीदाबाद के सांसद व विधायकों को भी आवश्यक कार्यवाही हेतु दी जाएगी। इस अवसर पर एडवोकेट बी.एस. विरदो, अर्चना गोयल, शशि मिश्रा, अभिभावक अशोक कुमार, युद्धवीर खत्री आदि मौजूद रहे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: