Monday, September 4, 2017

फरीदाबाद में कबाड के डेर पर बना है डेगू व मलेरिया का कार्यालय



फरीदाबाद (abtaknews.com) 04 सितंबर,2017 ; जिले में लगातार डेगू और मलेरिया के मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन बढती जा रही है। स्वास्थ्य विभाग के सभी दावे कितने सही और कितने गलत हैं इस बात की पडताल करने के लिए जब हमारी टीम ग्राऊंड जीरों पर पहुंची तो हालात बद से बदतर दिखाई दिए। जिले में डेंगू व मलेरिया का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। जिला मलेरिया विभाग ने डेंगू के 6 तथा मलेरिया के 10 नए मामलों की पुष्टि की गई है।

प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत स्वस्थ्य भारत के अभियान को पलीता लगाती हुई ये तस्वीरें हैं फरीदाबाद के स्वस्थ्य विभाग की हैं। जहां पर मलेरिया व डेगू विभाग के अधिकारी का कार्यालय है। जहां पर विभाग के अधिकारी बैठते हैं। आईये आपको अब दिखाते हैं उनके कार्यालय का वो नजारा जहां पर बैठकर वो डेगू और मलेरिया की रोकथाम के योजनाएं बनाते हैं। दिखाई दे रहा यह नजारा किसी कबाड खाने का नहीं है बल्कि जिले के सबसे बडे सिविल अस्पताल का है जहां पर गंदगी और कबाडे का अंबार लगा हुआ है इतना नहीं जहां विभाग के अधिकारी दावा करते है कि बरसाती पानी जमा होने से डेगू का मच्छर पैदा होते हैं वहीं गंदगी से मलेरिया के मच्छर पनपते हैं। लेकिर गौर करने वाली बात यह है कि स्वास्थ्य विभाग कार्यालय में पडे इस कबाड में बरसाती पानी इकटठा है और कार्यालय के मैन रास्ते पर साफ पानी भरा हुआ है। लाखों की संख्या में मच्छरों के लार्वा पैदा होने की उम्मीद भी जताई जा सकती है। 

जिला मलेरिया व डेगू अधिकारी डाक्टर रामभगत ने अबतक न्यूज़ टीम को बताया कि जिले में डेंगू व मलेरिया का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है। जिला मलेरिया विभाग ने डेंगू के 6 तथा मलेरिया के 10 नए मामलों की पुष्टि की गई है। इन नए मामलों के बाद इस सीजन में अब डेंगू के 10 तथा मलेरिया के 94 मामले हो गए हैं। विभिन्न क्षेत्रों में मलेरिया विभाग की ओर से चल रहे सर्वे के दौरान डेंगू फैलाने वाले एडीज तथा मलेरिया फैलाने वाले एनाफ्लीज के लार्वा मिल रहे हैं। विभाग के कर्मचारी जगह-जगह घरों में कूलरों व पानी की टंकियों की जांच कर रहे हैं।  एक ओर जहां स्वास्थ्य विभाग की ओर से किए गए सर्वे के मुताबिक जिन लोगों के घरो में लार्वा मिल रहे हैं उन लोगों को नोटिस दिए जा रहे हैं। लेकिन खुद स्वास्थ्य विभाग इन लार्वा के प्रति कितना सजग है और कौन इनको नोटिस देगा ये सबसे अहम सवाल है। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: