Monday, September 25, 2017

जिलाधीश समीरपाल सरो ने कस्सी फावड़ा लेकर निकल पड़े सफाई अभियान पर


फरीदाबाद 25 सितम्बर(abtaknews.com ) जिलाधीश समीरपाल सरो ने पूरे जिले में किसानों द्वारा धान की फसल की कटाई के बाद खेतों में बचे उसके अवशेषों अथवा पराली को जलाने तथा सायं 07:00 बजे से सुबह 10:00 बजे तक खेतों में धान की फसल कटाई हेतु कम्बाईन मशीन चलाने पर तुरन्त प्रभाव से पाबन्दी लगाने के आदेश जारी किए हैं। सरों द्वारा यह आदेश दण्ड प्रक्रिया नियमावली 1973 की धारा-144 के तहत उन्हें प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए जारी किए गए हैं। आदेशों में कहा गया है कि जिलाधीश के संज्ञान में लाया गया है कि जिला फरीदाबाद की सीमा के भीतर धान की फसल की कटाई के बाद किसानों द्वारा उसके आवशेषों (पराली) को जला दिया जाता है। इन अवशेषों के जलाने से होने वाले प्रदूषण से मनुष्य के स्वास्थ्य, सम्पत्ति की हानि, तनाव, क्रोध या मानव जीवन को भारी खतरे की सम्भावना बनी रहती है। जबकि इन अवशेषें से पशुओं के लिए चारा बनाया जा सकता है। इसके जलाने से चारे की कमी हो जाती है। जिलाधीश ने इन आदेशों की दृढ़ता से पालना सुनिश्चित करने के लिए जिला कृषि अधिकारी, फरीदाबाद व बल्लबगढ़ के क्षेत्रीय अधिकारी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, तहसीलदारों तथा खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारियों से कहा है। वे इस सम्बन्ध में अपने-अपने क्षेत्र के किसानों को जागरूक व प्रेरित करने के साथ-साथ माननीय नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एन.जी.टी.) कोर्ट के आदेशो की पूर्ण परिपालना करवाना भी सुनिश्चित करेंगे। इन आदेशों की अवहेलना करने पर यदि कोई व्यक्ति दोषी पाया जायेगा तो वह आई.पी.सी की धारा-188 सपठित वायु एवं प्रदूषण नियंत्रण अधिनियम-1981 के तहत दण्ड का भागी होगा। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: