Thursday, August 17, 2017

फरीदाबाद पुलिस की गिरफ्त में बैंकों को चूना लगा गाडियों का फर्जीवाड़ा करने वाला कुलविंद्र

fraud-kulvinder-arrest-by-faridabad-police


फरीदाबाद(abtaknews.com) सेक्टर 30 क्राईम ब्रांच सतेन्द्र कुमार की टीम को उस वक्त बडी सफलता हाथ लगी जब मुखबिर की सूचना पर पुलिस टीम ने एक ऐसे जालसाज युवक को फरीदाबाद के एनआईटी क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया जो अब तक बैंकों और सरकार को लाखों रूपये का चुना लगा चुका है। आरोपी कुलविंदर फाईनेंस की सस्ती गाडियां खरीदकर उनके फर्जी कागजात तैयार करके उन्हें पंजाब के अलग अलग शहरों से रजिस्टर्ड करवाने के बाद वहीं वापिस अच्छे दामों में बेच देता था और फाईनेंस पर दी गाडियों को बैंक खोजती रहती थी। पुलिस ने कुलविंदर से दो बडी गाडिया और दो छोटी गाडियां बरामद की हैं। आरोपी का एक और साथी है जो फरार है और करीब 10 से ज्यादा गाडियां है जो बरामद करनी है। 
आरोपी सरदार कुलविंदर को क्राईम ब्रांच सेक्टर 30 पुलिस टीम ने बैंकों और सरकार को लाखों रूपये का चुना लगाने और जालसाजी के आरोप में गिरफ्तार किया है। आरोपी खुद गाडियों का व्यापार करने वाला कुलविंदर मोटा पैसा कमाने के चक्कर में जालसाजी करने लगा और दिल्ली एनसीआर से बैंकों द्वारा फाईनेंस की गई गाडियों को कोडियों के भाव खरीदने के बाद उनके फर्जी कागजात तैयार करके उन्हें पंजाब के अलग अलग शहरों से पंजीकृत करवाता था और उसके बाद वहीं पंजाब में अच्छे दामों गाडियों को बेचकर मोटा मुनाफा खाता था। ऐसा करने के बाद बैंक फाईनेंस की गई गाडियों को खोजती मगर कागजात बदले जाने के चलते उन्हें गाडियां नहीं मिल पाती थी। क्राईम ब्रांच सेक्टर 30 ईचार्ज सतेन्द्र कुमार ने बताया कि कुलविंदर जालसाजी करने में अकेला नहीं था इसके साथ एक और साथी था जिसकी पुलिस को तलाश है। हाल ही में कुलविंदर से दो छोटी गाडियां नैनो और ऑल्टो व दो बडी गाडियां सफारी और स्कार्पियों बरामद कर ली गई हैं जो कि पंजाब नम्बर की हैं। 
क्राईम ब्रांच सेक्टर 30 ईचार्ज सतेन्द्र कुमार ने अबतक न्यूज़ पोर्टल टीम को बताया कि जालसाज कुलविंदर की माने तो उसके पिता की मौत के बाद उसपर पैसों की तंगी आ गई थी उसका गाडियां का काम मंदा चल रहा था इसलिये उसने ये जालसजी का कार्य शुरू किया था जिसमें उसने अब तक करीब 15 गाडियों को जालसाजी कर बेचा है। 
बाईट- कुलविंदर, जालसाज आरोपी। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: