Thursday, August 24, 2017

सैकडो वकीलो ने पुलिस के खिलाफ मुख्यमन्त्री के नाम दिया ज्ञापन

faridabad-advocate-against-saran-police-station

फरीदाबाद (abtaknews.com)थाना सारन की कार्य शैली को लेकर आज सैकडों वकीलों ने लघु सचिवालय सैक्टर-१२ में पुलिस के खिलाफ उपायुक्त महोदय को माननीय मुख्यमन्त्री के नाम ज्ञापन सौपा, ज्ञात हो कि विकास शर्मा, एडवोकेट, एफ$आई$आर$ न० ७२९, दिनांक ११$०८$२०१७ को अपने भाई राजेश कुमार के साथ कोर्ट आ रहे थे रास्ते में तीन लडक़ों ने उन पर हथोडों से हमला कर दिया जिसमें विकास शर्मा के दोनों पैर पूरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिये पुलिस ने तीन दोषीगणों को गिरफ्तार करके माननीय अदालत में हाजिर कर दिया वहां पर वकीलों के पहुँचने पर पता चला कि असली दोषी को तो पुलिस ने गिरफ्तार ही नहीं किया है किसी अन्य व्यक्तियो को उपरोक्त मामले में फंसा दिया है दूसरे मामले में वकील के भतीजे भरत सिंह ने पुलिस की कार्य शैली से तंग आकर फांसी लगा ली जिसमें पुलिस ने ए०एस०आई० न० ७२५ दिनांक १०$८$२०१७ जेरे धारा ३०६, ३४ आई$पी$सी$ दर्ज कर लिया ओम प्रकाश ए$एस$आई व ठेकेदार लाला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया लेकिन आज तक पुलिस दोनों को गिरफ्तार नहीं कर पाई है बार काऊंसिल पंजाब एण्ड हरियाणा अनुसाशन व निगरानी कमेटी के मनोनित सदस्य शिवदत्त वशिष्ठ एडवोकेट ने कहा कि पुलिस के इस रवैये से सरकार की छवि धूमिल हो रही है अगर वकीलों के साथ भी पुलिस का ये रवैया है तो आम जनता के साथ क्या होगा। बार काऊंसिल इंरोलमेंट कमेटी के चैयरमेन ओ०पी० शर्मा एडवोकेट ने कहा कि अगर जल्दी से जल्दी उपरोक्त दोषियों को गिरफ्तार नहीं किया गया तो पुलिस के खिलाफ बड़ा कदम उठाऐंगे इस मौके पर जिला बार ऐसोसिएशन के महासचिव सतबीर शर्मा, वरिष्ठ अधिवक्ता दलबीर अत्री, सुखराम जाखड, अनिल पाराशर, विक्रम सिंह अरूआ जिला पार्षद, सोनू भारद्वाज, विपिन वर्मा, मनोज कुमा, महेन्द्र चौधरी, सतीश चौहान, ज्ञान चन्द सौलंकी, प्रेम चन्द सैनी, सतपाल नागर, कुलदीप जोशी, पवन कौशिक, विजय यादव, मुकेश शर्मा, लक्ष्मण तंवर, रामबीर सिंह, वन्दना सिंह जादौन, अफाख खान, योगेश शर्मा ।


loading...
SHARE THIS

0 comments: