Wednesday, August 23, 2017

हाईटैंशन तारों की चपेट मेें आए लोगों को उचित मुआवजा दें बिजली विभाग : ललित नागर

lalit-nagar-mla-meet-victim-karuna-nagar-tigaon

फरीदाबाद(abtaknews.com \) करुणा नगर मवई में हाईटेंशन तारों की चपेट में आकर एक ही परिवार के 3 बच्चों सहित 7 लोग बुरी तरह से झुलस गए। आनन-फानन में उन्हें स्थानीय लोगों द्वारा उपचार के लिए निजी अस्पताल ले जाया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है। इस घटना में सभी लोग करीब 20 से 40 प्रतिशत तक झुलस गए। मामले की सूचना मिलते ही तिगांव विधानसभा क्षेत्र के विधायक ललित नागर ने अस्पताल पहुंचकर झुलसे हुए लोगों का कुशलक्षेम पूछा और इस घटना के लिए पूरी तरह से बिजली विभाग को दोषी करार दिया। गौरतलब है कि मवई श्मशान घाट रोड पर कुछ झुगिगयां बसी हुई है, जहां लोग रहते है, झुगिगयों के ऊपर से उनके ऊपर से 66 हजार केवी हाईटैंशन वोल्टेज की लाईन के अलावा 11 हजार वोल्टेज और एलटी लाईन गुजर रही थी, अचानक तीनों लाईनें आपस में टकरा गई, जिससे निकली आग की चिंगारियों से नीचे झुगिगयों में रह रहे एक ही परिवार के अभय, बीर, बबीता, भावना, ईना, मनीषा इत्यादि बैठे हुए थे, बुरी तरह से झुलस गए। जख्मी महिला ने बताया कि हम बच्चों के साथ पेड के नीचे बैठे हुए थे, उसी दौरान ऊपर से गुजर रही लाईनों में से तीन आग के गोले उन पर आ गिरे, जिससे वह बुरी तरह से झुलस गए। इस घटना के बाद आसपास के लोग एकत्रित हो गए और उन्होंने मौके पर पहुंचकर आनन-फानन में उन्हें उपचार के लिए अस्पताल पहुंचाया, जहां उनकी उपचार चल रहा है। विधायक ललित नागर ने कहा कि बिजली विभाग की लापरवाही के चलते आज एक ही परिवार के 7 लोग इस घटना के शिकार हुए, इसके लिए बिजली विभाग को जिम्मेदारी लेते हुए जहां घायलों के उपचार की राशि के अलावा उन्हें उचित मुआवजा देना चाहिए वहीं इन हाईटैंशन तारों को ठीक तरह से व्यवस्थित भी करना चाहिए। उन्होंने चेतावनी दी कि अगर बिजली विभाग ने इस मामले में उचित कार्यवाही नहीं की तो वह पीडि़तों के साथ मिलकर अधीक्षणअभियंता कार्यालय पर धरना-प्रदर्शन करने जैसे कदम उठाने को मजबूर होंगे। विधायक ललित नागर ने बताया कि इन हाईटैंशन तारों को अलग-अलग कर ऊपर करने के लिए कई बार स्थानीय लोग बिजली विभाग को लिखित में शिकायत दे चुके थे, परंतु इसके बावजूद आज तक विभाग ने इस मामले में कोई कदम नहीं उठाया, जिसके चलते आज इतना बड़ा हादसा हुआ है।


loading...
SHARE THIS

0 comments: