Friday, August 11, 2017

मानवता विकास द्वारा किया जा रहा है मानवता फेस्ट का आयोजन


फरीदाबाद 11 अगस्त,2017(abtaknews.com)जैसा कि सर्वविदित ही है कि समाज का नैतिक उत्थान, सतयुग दर्शन ट्रस्ट का प्रमुख उद्देश्य है। अपने इसी उद्देश्य की पूर्ति्त हेतु ट्रस्ट के परिसर में ही एकता के प्रतीक ध्यान कक्ष अर्थात् समभाव समदृष्टि के स्कूल का निर्माण किया गया है जहाँ प्रति सप्ताह प्रत्येक मनुष्य को हिन्दु, मुस्लिम, सि2ख, ईसाई जैसे धार्मिक भेद-भावों से रहित हो, समभाव समदृष्टि की युक्ति के अनुरूप, मनुष्यता में बने रहने का तथा परस्पर मैत्री भाव से विचरने का पाठ पढ़ाया जाता है। कहने का आशय यह है कि आज जो परिवार, स्कूल-कालेज व समाज  बच्चों को नहीं दे पा रहा उसकी आवश्यकता पूर्ति्त इस स्थान से कर सतयुग दर्शन ट्रस्ट वास्तव में अच्छे समाज की परिकल्पना को साकार करने में अतुलनीय भूमिका निभा रहा है। इसी श्रृंखला में वर्तमान वातावरण में पथभ्रष्ट हो रही युवा पीढ़ी के बहके हुए कदमों को पुन :सद्मार्ग पर लाने हेतु, गत वर्ष ट्रस्ट ने युवा बल को संगठित कर, मानवता विकास 1लब का निर्माण किया।

सबकी जानकारी हेतु मानवता विकास 1लब, मानवता की उन्नति के लिए संगठन है। इस 1लब का मु2य उद्देश्य समाज के प्रत्येक सदस्य, विशेष रूप से बाल-युवाओं के अन्दर, अपने आप को जानने की अभिलाषा उत्पन्न कर, अंतर्निहित दिव्य मानवीय गुणों को धारणे के लिए प्रेरित करना है ताकि वह अपनी बुद्धि को प्रकाशित कर, मानवता अनुकूल आचार-विचार व व्यवहार अपना- कर, नैतिकता से परिपूर्ण, एक सुखी व समृद्ध समाज के संगठन में निष्काम भाव से अपना योगदान दे सकें। इस तरह सब परस्पर सजन-भाव यानि मैत्री भाव अनुरूप एक दूसरे से प्रेम व एकता से विचरते हुए यानि शांत व आनन्दमय जीवनयापन करते हुए, अपने जीवन के प्रधान लक्ष्य को प्राप्त कर सके। 

सजनों वत्र्तमान एवं भावी पीढ़ी को सही रास्ते पर लाने के लिए उनका समय समय पर मार्गदर्शन करना अनिवार्य है। इसी संदर्भ में ट्रस्ट ने दिनाँक १२ अगस्त से दिनाँक १५ अगस्त २०१७ तक, फरीदाबाद, भूपानी स्थित, सतयुग दर्शन वसुंधरा के विशाल सभागार में मानवता फेस्ट का आयोजन किया है। इस फेस्ट का शुभारंभ शनिवार प्रात: १० बजे होगा। इसके अंतर्गत बच्चों को खेल खेल में, चारित्रिक उत्थान हेतु आवश्यक, जीवन के आधारभूत नैतिक मूल्यों से परिचित कराया जाएगा। इसी के साथ उन्हें आत्मिक ज्ञान प्राप्ति द्वारा अपनी, अपने परिवार की व समाज की सर्वरूपेण संभाल कैसे करनी है और किस प्रकार अपने जीवन को सार्थक दिशा प्रदान करनी है इस तथ्य से भी परिचित कराया जाएगा। समाज का कोई भी सदस्य बिना किसी भेद भाव के यानि समान रूप से इस आयोजन में समिमलित हो सकता है। अधिक जानकारी के लिए ट्रस्ट के कार्यालय में समपर्क करें।

loading...
SHARE THIS

0 comments: