Sunday, August 20, 2017

मेवला में दबंगों द्वारा छात्र की निर्मम ह्त्या मामले में, मामला दर्ज

 

फरीदाबाद(abtaknews.com) 20 अगस्त,2017; गाँव मेवला महाराजपुर में कुछ दबंगों ने नौवीं कक्षा के 15 वर्षीय छात्र की पीट पीटकर ह्त्या कर दी और छात्र को बिजली की चालू तारो पर फेंक कर वहां से फरार हो गए. जिसके कारण छात्र की मौके पर मौत हो गयी थी. मृतक छात्र का नाम तुषार बताया जा रहा है. परिजनों में भारी रोष है परिजनों का रोष देखते हुए पुलिस मौके पर पहुची और मृतक युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए सरकारी हस्पताल भिजवाया। पुलिस ने चार लोगो के खिलाफ हत्या और एस सी एस टी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है और आरोपियों की तलाश में जुट गयी है. मौके पर कई दलित नेता भी पहुंचे और घटना की कड़ी निंदा करते हुए आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग करते हुए उन्हें तुरंत गिरफ्तार करने की बात कही.  
गांव मेवला में 15 वर्षीय छात्र तुषार की इलाके के ही कुछ दबंगो ने लाठी और डाँडो से इस कदर पीटा कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई। दरअसल पूरा मामला ऍनसीआर के शहर फरीदाबाद के सूरजकुंड थाना इलाके के मेवला महाराजपुर गांव का है जहाँ एक दलित छात्र को एक छोटी सी कहासुनी के चलते इलाके के कुछ दबंगो ने उसका पीछा करके पहले तो उसे और उसके दोस्त को घेर लिए और फिर लाठी डाँडो से जमकर पीटा इतना ही नहीं जब दबंगो का पिटाई से भी मन नहीं भरा तो वह घायल छात्र को पास में बिजली की चालू तारो के बीच फेककर चले गए. जब तक परिजन तुषार तक पहुंचते तब तक वह दम  तोड़ चुका था. मृतक तुषार के गांववासी और चश्मदीद दोस्त ने बताया की शेर सिंह , मेहर सिंह , गुल्लू और योगेश नाम के चार दबंगो से इलाके के लोग बेहद परेशान है वह आये दिन लोगो के साथ दबंगई व मारपीट करते रहते है जिसके चलते दो दिन पहले भी उनके और उनके चाचा के साथ हाथापाई की थी और उनकी झुग्गी भी तोड़ दी थी जिसके बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी थी. चश्मदीद सुभाष ने बताया की आज भी इन्ही चार दबंगो ने उसे और उसके दोस्त तुषार को घेर लिया तब वह तो किसी तरह दबंगो के चुंगल से भाग निकला लेकिन तुषार उनके उनके चुंगल में आ गया और चारो दबंगो ने उसे लाठी और डंडो से पीट पीट कर अधमरा  कर दिया और पास ही में मौजूद बिजली की चालू तारो पर तुषार को फेंक दिया जिसके कारण उसकी मौत हो गयी लेकिन जब उसको आनन फानन में हस्पताल में ले गए तो डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. उसने बताया की इन दबंगो का खौफ लगभग एक साल से इलाके में बना हुआ है जिसके चलते छह महीने पहले भी उन्होंने पुलिस में शिकायत की थी लेकिन पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की. वहीँ मृतक छात्र दलित है तो दलित नेता भी छात्र की मौत को लेकर गुस्से में है और पुलिस और प्रशासन से साफ़ कह दिया है की यदि उन्होंने आरोपियों को जल्दी नहीं पकड़ा तो वह लोग कुछ भी कर सकते है. 

सूरजकुंड थाना के एसएचओ पंजक कुमार ने बताया की किसी प्लॉट को लेकर झगड़ा हुआ था जिसमे 15 साल के तुषार को चार लोगो ने पीटा था जिससे उसकी मौत हो गयी और इस सम्बन्ध में पुलिस ने धारा 302 और एस सी एस टी एक्ट के तहत  मामला दर्ज कर लिया है हालांकि अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हो सकी  है. 



loading...
SHARE THIS

0 comments: