Monday, August 21, 2017

खतौली ट्रेन हादसे में मारे गये यात्रियों की आत्मशांति के लिये हुआ महायज्ञ



फरीदाबाद 21 अगस्त(abtaknews.com) उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर स्थित खतौली में हुए भीषण ट्रेन हादसे में मारे गये करीब 30 यात्रियों की आत्मशांति के लिये फरीदाबाद सेक्टर 16 ए स्थित अदभुतधाम हनुमार मंदिर में आचार्य लक्ष्मीनारायाण महाराज ने महायज्ञ किया।  जिसमें 9 ब्राहमणों ने हवन कुड में यात्रियों की आत्मशांति और इस दुख की घडी में परिजनों को साहस देने के लिये प्रभु के नाम आहूति डाली और प्रार्थना की इस हादसे में घायल हुए सभी यात्री ईलाज के जल्द ही ठीक होकर सकुशल अपने अपने घर पहुंच जायें। बता दें कि आचार्य लक्ष्मीनारायण पिछले 8 माह से लगातार श्री अदभुतधाम हनुमान मंदिर में त्रिपिंडी श्राद्ध महायज्ञ करवाते आ रहे हैं और इसे देश के कल्याण हेतु समर्पित करते हैं। फरीदाबाद सेक्टर 16 ए स्थित श्री अदभुतधाम हनुमान मंदिर में हर माह की तरह इस बार भी अमावस्या के दिन अष्ठम त्रिपिंडी श्राद्ध महायज्ञ आयोजित करवाया, जिसमें सैंकडा भक्तों सहित दर्जनों ब्राहमणों ने हिस्सा लिया।  इस बारे में अधिक जानकारी देते हुए श्री अदभुतधाम हनुमान मंदिर ने महंत आचार्य लक्ष्मीनारायाण महाराज ने बताया कि इस बार अष्ठम महायज्ञ उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर स्थित खतौली में हुए भीषण ट्रेन हादसे में मारे गये करीब 30 यात्रियों की आत्मशांति के लिये समर्पित किया है। महायज्ञ में 9 ब्राहमणों ने एक साथ हवन कुंड में आहूति डालकर मारे गये यात्रियों के परिजनों को इस दुख की घडी में साहस देने के लिये प्रभु से प्रार्थना की है और घायल हुए यात्रियों को जल्द सकुशल घर वापिस भेजने की भी प्रर्थना की है। महाराज जी ने बताया कि 1 जनवरी से शुरू हुआ समस्त विश्व की शांति एवं जनकल्याण हेतु इस त्रिपिंडी श्राद्ध महायज्ञ की ये अष्ठम आहूति थी अगले माह नोंवी आहूति डालकर सात दिन की भागवत कथा की जायेगी। इस महायज्ञ में श्री विवेक शास्त्री, श्री मोहित शास्त्री, श्री उमाशंकर जी, पंडित सचिन द्विवेदी, पंडित सतेन्द्र तिवारी,  श्री पंकज मिश्रा श्री,  अतुल द्विवेदी श्री विकास पाठक, श्री सौरभ चतुर्वेदी श्री जगदीश शर्मा जी सहित दर्जनों भक्तों ने हिस्सा लिया। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: