Saturday, August 5, 2017

सराय ख्वाजा स्कूल में टी बी रोग बचाव एवं जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन

फरीदाबाद (abtaknews.com)टी बी (क्षय रोग) बचाव  पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित राजकीय आदर्श वरिष्ठ  माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की जूनियर रेड क्रॉस, सैंट जॉन  एम्बुलेंस ब्रिगेड व् रविन्दर नाथ टैगोर सदन द्वारा आज प्राचार्या श्रीमती अंजु छाबड़ा और सचिव जिला रेड क्रॉस श्री बी बी कथूरिया के निर्देशानुसार जूनियर रेड क्रॉस प्रभारी रविंदर कुमार मनचंदा और विद्यालय प्रबंधन द्वारा क्षय रोग पर जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 
विद्यालय के अंग्रेजी प्रवक्ता रविंदर कुमार मनचंदा ने आज प्रातः कालीन सत्र में असेंबली में बच्चों को समोधित करते हुए बताया की  क्षय रोग एक जीवाणु अर्थात बैक्टीरिया जनित रोग है जो कि  मइक्रोबक्टेरियम टुबरक्लॉसिस नाम के बैक्टीरिया द्वारा फैलता है, यह एक बहुत ही संक्रामक रोग है जो कि  ज्यादातर व्यक्ति के फेफड़ों  को अपना निशाना बनता है लेकिन यह  जीवाणु व्यक्ति के त्वचा , दिमाग, रक्त परिसंचरण तंत्र, किडनी, हड्डियों और जोड़ों को भी संक्रमित कर सकता है।  विश्व स्वस्थ्य संगठन के अनुसार वर्ष 2014 में   क्षय रोग द्वारा पूरी दुनिए में लगभग 15 लाख मौतें हुई थी, क्षय रोग  एक बहुत ही संक्रामक रोग है जो की एक व्यक्ति से दुसरे में आसानी से फैलता है, यदि समय पर टीबी  का इलाज या उपचार न करवाया जाए तो यह जानलेवा भी साबित हो सकता है, यानि क्षय रोग के फैलने के बहुत से कारण हैं और सबसे बड़ा कारण यह है की यह एक बहुत ही संक्रामक रोग है| टीबी  के कीटाणु जिन्हें खांसने, छींकने , बोलने, थूकने  आदि के द्वारा एक व्यक्ति से दुसरे व्यक्ति में पहुँच सकते हैं| इस  के कीटाणु की थोड़ी सी मात्रा ही स्वस्थ मनुष्य को रोगी बना सकती हैं, ज्यादातर इन कीटाणुओं को संचरण वायु के माध्यम से होता है उन्होंने कहा  कि क्षय रोग को आयुर्वेद में राजयक्ष्मा यानी रोगो का राजा भी कहा जाता है। क्षय रोग  किसी भी उम्र के लोगो में हो सकता है। विश्व में हर 3 में 1 व्यक्ति क्षय रोग का पीड़ित है। टीबी  से हर साल 30 लाख लोगो की  मौत होती है। भारत में हर साल लाखो लोग इस बीमारी के शिकार होते है। भारत सरकार के द्वारा  क्षय रोग  को फैलने से रोकने के लिए अनेक प्रयास किया जा रहा है पर फिर भी हर वर्ष  क्षय रोग  के मरीजो की संख्या में बढ़ोतरी हो रही हैं।   इस अवसर पर विद्यालय के बच्चों ने भी  क्षय रोग  से बचाव के पोस्टर और स्लोगन लिख कर जागरूक रहने का सन्देश दिया।प्राचार्या श्रीमती अंजु छाबड़ा,  रविंदर कुमार मनचंदा, स्टाफ सचिव वीरपाल पीलवान, प्रवक्ता देशराज गोला, प्रवक्ता दान सिंह,  प्रवक्ता  प्रज्ञा देवी,  प्रवक्ता सरोज और लोकेश पी  टी आई सहित समस्त स्टाफ और बच्चों ने टी बी से बचाव का सन्देश दिया और टोल फ्री नंबर 1800116666 के बारे में भी जानकारी दी। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: