Tuesday, August 8, 2017

मॉ का दूध बच्चे के लिए अमृत है; नरेश कुमार



फरीदाबाद 8 अगस्त,2017(abtaknews.com)एनआईटी-1 के कार्यालय में विश्व स्तनपान सप्ताह मनाया गया। ये सप्ताह महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा कस्तूरबा सेवा सदन की महिला एवं बाल विकास की परियोजना अधिकारी विमलेश कुमारी के नेतृत्व में आयोजित किया गया। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए महिला एवं बाल विकास परियोजना अधिकारी विमलेश कुमारी एवं खाद्य एवं पौषाहार के प्रभारी नरेश कुमार ने बताया कि विश्व स्तनपान 1 से 7 अगस्त तक स्तनपान को बढ़ावा देने के लिए एवं लोगों को जागरूक करने के लिए किया गया है। उन्होंने कहा कि नौनिहालो को छह महीने तक केवल स्तनपान ही करवाये कोई घुट्टी, पानी आदि न दे। गाय या भैस का दूध न पिलाये क्योकि बच्चो की आंतों को कमजोर करता है। उन्हेिने बताया कि अभी भी शिशु की मृत्यु दर एक वर्ष से कम बच्चो की अधिक है। मां का दूध ही इस  मृत्यु दर को कम कर सकता है। मॉं के दूध में सभी पोष्टिक तत्व होते है जो नवाजात के सर्वागीण विकास के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि मॉं का गाढा दूध नवजात को अवश्य पिलाये जिसे क्लोस्ट्रोल कहते है ये नवाजात के लिए पहले टीके जैसा होता है जो नवजात को बिमारियों से बचाता है। जो माताएं अपने शिशु को स्तनपान कराती है उन्हें गर्भाशय और स्तन कैंसर का खतरा नहीं होता है।

इस मौके पर सुरेखा देवी एवं कमला सुपरवाईजर ने भी अपने अपने विचार किये। इस दिवस  पर मेंहदी, स्लोगन व रेस्पी और रंगोली की प्रतियोगिता का भी आयोजित किया गया जिसमें महिलाओं और सेविकाओ ने अपनी अपनी रूचि दिखाई। महिलाओ से प्रश्र भी पूछे गये उन की भ्रंातियों को दूर किया गया। अंत में सभी का धन्यवाद किया और सभी ने समारोह में बताये गये टिप्स पर अमल करने की बात भी कही। इस मौके पर आयोजित प्रतियोगिता में प्रतिभागियो को इनाम भी वितरित किये गये।


loading...
SHARE THIS

0 comments: