Tuesday, July 18, 2017

जिला एनएसयूआई के प्रयास से हरियाणा के 13 जिलों को फायदा : कृष्ण अत्री

फरीदाबाद(abtaknews.com)एनएसयूआई के जिला अध्यक्ष कृष्ण अत्री के प्रयासों से हरियाणा के 13 जिलों को फायदा मिला है। अब एमडीयू में 13 जिलों के छात्रों को तीसरे सैमेस्टर में दाखिला लेने के लिए प्रथम सैमेस्टर में 50 प्रतिशत विषय में पास होना अनिवार्य नहीं है। जिला एनएसयूआई को एमडीयू के तुगलकी फरमान पर हैट्रिक जीत मिली है। एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष कृष्ण अत्री ने अपनी टीम के प्रयासों से मिली जीत पर खुशी व्यक्त की और उन्हें बधाई दी।मंगलवार को एनएसूआई के जिलाध्यक्ष कृष्ण अत्री ने ओल्ड फरीदाबाद स्थित वरिष्ठ कांगे्रसी नेता लखन सिंगला के कार्यालय पर एक प्रेस वार्ता का आयोजन किया। इस मौके पर एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष कृष्ण अत्री, यूथ कांगे्रस के ओल्ड फरीदाबाद विधानसभा अध्यक्ष नितिन सिंगला, सुनील मिश्रा, कुनाल अधाना, विकास फागना, नरेश राणा सहित अनेक एनएसयूआई छात्र नेता मुख्य रूप से मौजूद थे। एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष कृष्ण अत्री ने पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि महर्षि दयानंद यूनिवर्सिटी ने हाल ही में एक बार फिर तुगलकी फरमान जारी कर दिया था जिसमें तीसरे सैमेस्टर में दाखिला लेने के लिए प्रथम सैमेस्टर में 50 प्रतिशत विषय में पास होना अनिवार्य था। एमडीयू के इस फरमान के खिलाफ एनएसयूआई ने 3 जुलाई से 14 जुलाई तक लगातार प्रदर्शन किया और साथ ही एमडीयू व जिला प्रशासन को तीन दिन का अल्टीमेटम दिया कि यदि आगामी तीन दिन में उनकी मांग नहीं मानी गई तो वह सत्याग्रह करेंगे। कृष्ण अत्री ने बताया कि एनएसयूआई के इस प्रयास के बाद एमडीयू ने 17 जुलाई की शाम को अपना नियम वापिस ले लिया। उन्होंने बताया कि एनएसयूआई की यह लगातार तीसरी बार जीत है। इससे पहले भी एमडीयू ने यह फरमान वर्ष 2015 और 2016 में भी जारी किया था, तब भी एनएसयूआई ने प्रदर्शन कर नियम को वापिस करवाया था। एमडीयू के तुगलकी फरमान के खिलाफ एनएसयूआई के मुख्य प्रदर्शन 3 जुलाई को पं. जवाहर लाल नेहरू कॉलेज पर प्रदर्शन, वाईस चांसलर के नाम सौंपा ज्ञापन 5 जुलाई को जिला उपायुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन, शिक्षा मंत्री, डीएचई, वाईस चांसलर के नाम सौंपा ज्ञापन 6 जुलाई को डीएवी कॉलेज पर शिक्षा मंत्री रामविलास शर्मा का फंूका पुतला 7 जुलाई को हरियाणा के उद्योग मंत्री के कार्यालय पर किया प्रदर्शन, शिक्षा मंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन 10 जुलाई को बल्लभगढ़ विधायक के कार्यालय पर प्रदर्शन, शिक्षा मंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन 14 जुलाई को विशाल स्तर पर जिला उपायुक्त कार्यालय का किया घेराव, 300 से अधिक छात्र-छात्राओं ने दी गिरफ्तार, जेल भरो आंदोलन के बाद एमडीयू व जिला प्रशासन को दिया तीन दिन का अल्टीमेटम 17 जुलाई को एनएसयूआई को मिली जीत, एमडीयू ने अपनी तुगलकी फरमान लिया वापिस कुनाल अधाना, सुनील मिश्रा, कृष्ण शर्मा और विकास फागना ने इस जीत पर पूरी जिला एनएसयूआई और अपनी टीम को बधाई दी और संयुक्त रूप से कहा कि वह भविष्य में भी छात्र हितों के लिए लड़ाई जारी रखेंगे। उन्होंने कहा कि एमडीयू प्रशासन जब भी छात्र हितों के खिलाफ इस प्रकार का फैसला लेगी तो एनएसयूआई छात्रों के साथ खड़ी नजर आएगी और एमडीयू को अपने फैसले वापिस लेने पर मजबूर कर देगी। इस आंदोलन में भूमित शर्मा, नरेश राणा, मोहित लोहिया, आकाश पंडित, अजीत त्यागी, नितिन तंवर, मोहित त्यागी, शुभम चौधरी, अभिषेक शर्मा, हेमंत टोंगर, दिनेश कटारिया, रूपेश झा, पुनीत कौशिक, रोहित, सचिन, कुंज बसौया, सीमा भास्कर, सदफ, नेहा, प्रीति, कोमल, पूजा, आकांशा, जैसमीन सहित अन्य कार्यकत्र्ताओं ने मुख्य भूमिका निभाई।

loading...
SHARE THIS

0 comments: