Thursday, July 27, 2017

नेताजी के चेले रूठों को मनाने निकल पड़े, बेटे का राजनीतिक रूतबा जो बढ़ाना है

netaji-tigaon-faridabad-haryana

फरीदाबाद (abtaknews.com) 27 जुलाई,2017; तीन साल सत्ता के नशे से सराबोर रहे नेता होश में आने लगे है चुनाव सामने जो है। अपने राजनीतिक कैरियर को दाव पर लगाकर नेताजी को अपने अपने बेटे को राजनीती में स्थापित करना है इस लिए अब बचे दो साल में अपने खिलाफ ख़राब होते जा रहे माहौल को ठीक करने के लिए अपने सिपहसालारों और विश्वासपात्रों को मैदान में उतार दिया है। जो जो भी वजनदार नेता पार्टी से नाराज चल रहा था उसको मानाने के लिए नेता ने अपने कुछ खास चमचों को नेता  रूठे और अलग चल रहे पार्टी के पुराने कार्यकर्ताओं को मनाने के लिए अनोखा तरीका अख्तियार किया है।  नेताजी का खास आदमी रूठे हुए के पास नेता का संदेश लेकर जायेगा और उसे समझाने का प्रयास करेगा।
नेताजी ने इस मुहीम को इतने गुप्त तरीके से शुरू कर दिया कि किसी को पता न चले और काम हो जाये। लेकिन अबतक न्यूज़ के ''खबरी लाल '' तो फिर खबरी लाल ही है उक्त मुहीम का पता कर लाया और कर दिया भंडाफोड़। इस विशेष  अभियान में नगर निगम चुनाव में ऐरे गेरे नत्थू खेरों की जिन जिन घरवालियों को पार्षद का पार्टी का टिकट दिलवाया और जितवाया उनके खाली बैठे रहने वाले पार्षद पतियों की ड्यूटी लगाई गई है। और नेता जी को पूर्ण रूपेण समर्पित पार्षद पतियों ने अपना अभियान शुरू कर दिया है। अपनी विधानसभा कहने वाले इलाके से इसकी शुरुआत हो चुकी है जिस जिस ने नगर निगम चुनाव में पार्टी की टिकट नहीं मिलने पर विद्रोह कर चुनाव लड़ा और चुनाव हारे लेकिन अच्छी खासी वोट भी हासिल की उन्हें मनाने का कार्य किया जा रहा है। नेता जी का मानना है की विगत तीन साल  घावों को अभी दो साल के समाया में भर दिया जायेगा लेकिन जो जख्म जनता को तीन साल में  मिले उन्हें आने वाले दो साल में भरना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है। पुत्र मोह में बावले हुए को कौन समझाए कि ये  जो पब्लिक है ये सब जानती है। अच्छा बुरा पहचानती है।
(खबरी लाल की  खरी खरी खबर नेताजी लपेटे में कल फिर  पढ़िए---अबतक न्यूज़ पोर्टल पर जहां खबरे छुपती नहीं छपती हैं ---------- )

loading...
SHARE THIS

0 comments: