Monday, July 24, 2017

मांदकौल में हत्या के झूठे मामले में वकील की गिरफ्तारी के विरोध में पलवल, होड़ल, हथीन के वकीलाें की हड़ताल

पलवल(abtaknews.com) 24 जुलाई,2017; मांदकौल गांव में बृहस्पतिवार को फायरिंग में 48 वर्षीय दुर्गादत्त की मौत के मामले में तीन वकीलों को नामजद करने और एक वकील की गिरफ्तारी विरोध में पलवल, होड़ल और हथीन के वकीलाें ने अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा कर दी है। सोमवार सुबह पलवल जिला बार एसोसिएशन के प्रधान धमेंद्र सिंह तेवतिया की अध्यक्षता में वकीलों ने बैठक की और पुलिस कार्रवाई की निंदा की। उन्होंने बताया कि मांदकौल में हुई फायरिंग के दौरान हुई हत्या मामले में तीन वकील देवदत्त कौशिक, सुशील और जयदेव को झूठा केस बनाकर फंसाया गया है। इस मामले से तीनों वकीलों का कुछ लेना-देना नहीं है। उन्हाेंने कहा कि सभी वकील व जिला बार मामले में संलिप्त आरोपियों को सजा दिलाने के पक्ष में है। लेकिन पुलिस निर्दोष वकील और उनके परिवारों को तंग कर रही है। 

video

पुलिस सुरक्षा देने की बजाए वकील परिवार को मानसिक प्रताड़ना दे रही है। जिससे तंग आकर वकील परिवार को गांव से पलायन करने को मजबूर है। जिसे बार एसोसिएशन बर्दाश्त नहीं करेगी। इस संबंध में शुक्रवार को जिला बार एसोसिएशन के पदािधकािरयाें ने पुलिस अधीक्षक सुलोचना गजराज से मुलाकात की थी। ताकि पूरे मामले की निष्पक्ष जांच हो सकें। लेकिन पुलिस की कार्रवाई से ऐसा लग रहा है कि पुलिस पर भारी राजनैतिक दबाव है। इसलिए बार एसोसिएशन ने तय किया है कि जब तक निर्दोष वकीलों के नाम मामले से नहीं हटाएं जाएंगे, तब तक हड़ताल जारी रहेगी। यदि प्रशासन नहीं चेता तो पूरे हरियाणा के वकील हड़ताल पर चले जाएंगे। इस संबंध में प्रशासन को नोटिस दे दिया है। बैठक में पूर्व प्रधान रविंद्र चौहान, महासचिव हरीश शर्मा, विकास डबास, राकेश भारद्वाज, अनिल चौहान, सूरजपाल, सुरेंद्र राणा, अमित, रतन सिंह मौजूद थे। इसी मामले को लेकर होड़ल बार में वकीलों ने प्रधान उर्मिला सौरोत और हथीन में सतवीर सहरावत की अगुवाई में वकीलों ने काम ठप कर दिया। हड़ताल के कारण रोजमर्रा के काम प्रभावित हुए। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: