Thursday, July 6, 2017

पूर्व अंतर्राष्ट्रीय महिला क्रिकेटर अंजुम चोपड़ा के बाहुबली पिता कृष्णबल चोपड़ा की जमानत रद्द


ex-women-cricketer-anjum-chopda-father-Krishan-bal,-criminal-story-faridabad

फरीदाबाद 06 जुलाई 2017(abtaknews.com): अनंगपुर में रहने वाले पूर्व अंतर्राष्ट्रीय महिलाक्रिकेटर अंजुम चोपड़ा के पिता कृष्णबल चोपड़ा और उनकी माँ पूनम चोपड़ा कोर्ट से बड़ा झटका मिला है, दोनों की जमानत रद्द हो गई है। एक जानकारी  के मुताबिक़ उनकी जमानत इसलिए रद्द हुई है क्यू कि पहले मामला दर्ज होने के बाद भी वो अरावली की पहाड़ियों पर अवैध निर्माण कर रहे थे।  कोर्ट ने कहा कि एक बार मामला दर्ज होने के बाद भी नियम क़ानून न मानने वालों की जमानत नहीं मिलगी। जमानत रद्द होने के बाद क्रिकेटर के पिता अब हाईकोर्ट में जमानत की अपील कर सकते हैं लेकिन उनकी जमानत रद्द होने से एक बात सच है कि कोई भी इंसान कितना बड़ा हो नियम क़ानून से बड़ा नहीं हो सकता, किसी की कितनी भी जान पहचान हो लेकिन कोर्ट में जान पहचान नहीं चलती। पूर्व क्रिकेटर पिता पर आरोप लगे थे कि दिल्ली में बैठे एक बड़े सत्ताधारी नेता की शय पर वो अरावली की पहाड़ियों पर अवैध निर्माण कर रहे हैं, स्थानीय लोगों की जमीन पर कब्ज़ा कर रहे हैं।

मालुम हो कि पूर्व  क्रिकेटर के पिता और माँ पर फिर वन विभाग की जमीन पर अवैध निर्माण करने का आरोप दो बार लगाया गया था।  दोनों मार उनके ऊपर मामले दर्ज हुए थे।  पहली बार मामला दर्ज होने के बाद भी वो अरावली पर अवैध निर्माण करने लगे जिसके बाद वन विभाग ने उनके ऊपर फिर मामला दर्ज करवा।  इसके बाद क्रिकेटर के पिता ने फरीदाबाद के कोर्ट में बुधवार अग्रिम जमानत की अपील की थी लेकिन रद्द हो गई।
दुबारा दो हफ्ते पहले जब उनपर मामला दर्ज हुआ उस दौरान स्थानीय निवासी विकास चंदीला ने बताया था कि चोपड़ा कहते है कि पुलिस और नेता मेरी जेब में रहते हैं और किसी ने मेरे खिलाफ आवाज उठाई तो पप्पी के फ़ार्म जैसे उसका भी घर तुड़वा दूंगा | चंदीला का कहना है कि चोपड़ा मेरी जमीन पर कब्जा करना चाहता है और कहता है कि आपने आवाज उठाई तो आपका मकान तुड़वा दूंगा | मेरे दिल्ली के बड़े बड़े नेताओं से संपर्क हैं, चंदीला ने कहा था कि चोपड़ा अनंगपुर में खुद को बाहुबली साबित कर रहे हैं अरावली के अलांवा ग्रामीणों की जमीन पर जबरन कब्ज़ा कर रहे हैं।

इसलिए पूर्व क्रिकेटर पिता कहलाते हैं बाहुबली,पूर्व महिला क्रिकेटर अंजुम चोपड़ा के पिता ;कृष्णबल चोपड़ा ने लगभग ढाई  माह पहले अनंगपुर स्थित भाजपा नेता प्रेमकृष्ण आर्य उर्फ़ पप्पी का फ़ार्म हाउस तुड़वा दिया गया और फ़ार्म तुड़वाने का आरोप पूर्व क्रिकेटर अंजुम चोपड़ा उनके पिता कृष्ण बल चोपड़ा और कई पुलिस अधिकारियों पर लगा था।  कोर्ट के स्टे के बाद भी क्रिकेटर ने पुलिस की मिलीभगत से फ़ार्म हाउस तुड़वा दिया जिसके बाद हाईकोर्ट  सभी को तलब किया है लेकिन अधिकतर पुलिस अधिकारी और चोपड़ा परिवार अब तक हाईकोर्ट नहीं पहुंचे। जिसके बाद चोपड़ा वन विभाग की जमीन कब्ज़ा करने लगे  और दीवार खड़ी करने लगे। वन विभाग ने उस समय चोपड़ा पर मामला दर्ज करवाया और उसके द्वारा किये जा रहे अवैध निर्माण को ढहा दिया | इसके बाद भी चोपड़ा नहीं माना और  फिर वन विभाग की जमीन के साथ साथ एक ग्रामीण की जमीन पर अवैध निर्माण करने लगा।

इसके बाद 18 जून  को फिर इसके खिलाफ बन विभाग ने मामला दर्ज करवाया। जिसके बाद चोपड़ा ने कोर्ट में अग्रिम जमानत की अपील की थी लेकिन एडिशनल सीजन जज वीरेंद्र मलिक ने उनकी अग्रिम जमानत ये कहकर खारिज कर दी कि वो पहली बार मामला दर्ज होने के बाद भी वन विभाग की जमीन पर अवैध निर्माण कर रहे थे।

इस मामले पर भाजपा नेता पप्पी का कहना है कि चोपड़ा खुद गलत है उसके ऊपर बार बार मामले दर्ज हो रहे हैं लेकिन वो नियम कानून नहीं मान रहा है।  मुझे कोर्ट पर भरोषा था और अब कोर्ट में उसकी जमानत रद्द हो गई।  उन्होंने कहा कि जो जैसा करेगा वैसा भरेगा।  वो नियम क़ानून को ठेंगा दिखा रहा था।  पप्पी ने कहा कि चोपड़ा ने गलत तरीके से मेरा फ़ार्म हॉउस तुड़वाया था और अब गांव वालों की जमीनें धमका कर कब्ज़ा कर रहा था।  पप्पी का आरोप है कि पूर्व क्रिकेटर अंजुम चोपड़ा के पिता ने अरावली पर अपनी हवेली के आस पास भी अवैध निर्माण कर रखा है उसकी भी जांच कराई जाए।

loading...
SHARE THIS

0 comments: