Tuesday, July 11, 2017

फरीदाबाद मे विश्व जनसँख्या पर पेंटिंग प्रतियोगिता और जागरूकता कार्यक्रम

फरीदाबाद(abtaknews.com)11जुलाई,2017; राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय सराय ख्वाजा की जूनियर रेड क्रॉस व् सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड ने प्राचार्य श्रीमती अंजु छाबड़ा के निर्देशानुसार विश्व जनसँख्या पर पेंटिंग प्रतियोगिता और जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया। विद्यालय की जूनियर रेड क्रॉस व् सैंट जॉन एम्बुलेंस ब्रिगेड प्रभारी व् अंग्रेजी प्रवक्ता रविंदर कुमार मनचंदा ने बच्चों को बताया की विश्व जनसँख्या दिवस सबसे पहली बार 11 जुलाई 1987 को मनाया गया था क्‍योंकि इसी दिन विश्‍व की जनसंख्‍या 5 अरब को पार कर गई थी इसे देखते हुऐ संयुक्त राष्ट्र ने जनसंख्या वृद्धि को लेकर दुनिया भर में जागरूकता फैलाने के लिए यह दिवस मनाने का निर्णय लिया क्‍योंकि आज दुनिया के हर विकासशील और विकसित दोनों तरह के देश जनसंख्या विस्फोट से चिंतित हैं भारत में बढती जनसंख्‍या की बजह से देश को लगातार बढ़ती बेरोजगारीए गरीबीए भुखमरी तथा आने वाली पीढ़ियों के लिए सुरक्षित और स्वस्थ रह पाना मुश्किल होगा ऐसा अनुमान है कि भारत में एक मिनट में लगभग 25 बच्‍चे जन्‍म लेते हैं जनसंख्‍या के हिसाब से चीन विश्‍व में प्रथम स्‍थान पर और भारत दूसरे स्‍थान पर है इसी को देखते हुए भारत सरकार परिवार नियोजन के कई कार्यक्रम चला रही है वर्ष 2017 की जनसंख्या दिवस का थीम है कि ष् परिवार नियोजित हो ए लोग सशक्त हो और राष्ट्र विकासशील होंष्। 11 जुलाई को सालाना पूरे विश्व में विश्व जनसंख्या दिवस के रुप में पूरे विश्व में जनसंख्या मुद्दे की ओर लोगों की जागरुकता को बढ़ाने के लिये इसे मनाया जाता है। संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की संचालक परिषद के द्वारा विश्व जनसंख्या दिवस उत्सव के थीम ;विषयद्ध के द्वारा पूरे विश्व भर में ये संदेश दिया गया था जब लोगों के चिरस्थायी भविष्य के साथ ही ज्यादा छोटे और स्वस्थ समाज के लिये सत्ता द्वारा बड़े कदम उठाये गये थे। प्रजनन संबंधी स्वास्थ देख.रेख की माँग और आपूर्ति पूरी करने के लिये एक महत्वपूर्णं निवेश किया गया है। जनसंख्या घटाने के द्वारा सामाजिक गरीबी को घटाने के साथ ही जननीय स्वास्थ्य बढ़ाने के लिये कदम उठाये गये थे। ये विकास के लिये एक बड़ी चुनौती वर्ष 2017 में पूरे धरती की जनसंख्या साढ़े सात बिलीयन के लगभग पहुँच गयी है। संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के संचालक परिषद के फैसले के अनुसारए ये अनुशंसित किया गया था कि हर साल 11 जुलाई को वैश्विक तौर पर समुदाय द्वारा सूचित करना चाहिये और आम लोगों के बीच जागरुकता बढ़ाने के लिये विश्व जनसंख्या दिवस के रुप में मनाना चाहिये तथा जनसंख्या मुद्दे का सामना करने के लिये वास्तविक समाधान पता करना चाहिये। जनसंख्या मुद्दे के महत्व की ओर लोगों का जरुरी ध्यान केन्द्रित करने के लिये इसकी शुरुआत की गयी थी। आज पेंटिंग प्रतियोगिता में नोवी ए दसवीं व् गयारहवीं के बच्चों ने भागीदारी की। रेनू बोहरा को प्रथमए मिथुन को द्वितीयए साक्षी सिंह को तृतीय व् आदिल को सांत्वना पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। इस अवसर पर अंग्रेजी प्रवक्ता रविंदर कुमार मनचंदाए प्रज्ञा मैडमए ब्रह्मदेव यादवए विक्रम विवेकए कमलेशए रूप किशोरए लोकेश पी टी आई ने अजयए शवेतिकाए विशालएचंचलए पूजाए यशी और निशा की पेंटिंग की भी सराहना की।

loading...
SHARE THIS

0 comments: