Friday, July 14, 2017

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत फार्म भरने के लिए लाइनों में धक्के खा रही है महिलाएं

फरीदाबाद 14 जुलाई,2017(abtaknews.com)बर्ष 2022 तक सबके पास अपना आवास के प्रण को पूरा करने के लिये प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत फरीदाबाद के सार्वजनिक सेवा केन्द्र में सर्वेक्षण फार्म जमा करने के लिये हजारों की संख्या में महिला और पुरूषों की लंम्बी कतार लगी हुई है। पहले नोट बदलवानें के लिए पूरा देश लाइनों में लगा रहा और अब प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान की चाह में फार्म भरने के लिए महिलाएं सप्ताह भर से धक्के खा रही है। लेकिन अभी तो उनका फार्म ही जमा नहीं हुआ है, मकान का सपना तो लगता है साहब, सपना ही रह जायेगा। बदइंतजामी से परेशान लोगों का कहना है कि इससे तो अच्छा है कि सरकार इस तरह की योजनायें ही न निकाले या फिर उसके उचित प्रबंध करे। इस पर मेयर सुमन बाला ने सभी को आश्वासन देते हुए कहा कि फार्म जमा करने के लिये 10 दिन और बढा दिये जायेंगे। यह कोई राशन लेने या नोट बदलवानें की लाइन नहीं है साहब, बल्कि इस बार सरकार ने इन गरीब लोगों को अपने आवास का सुनहरी सपना दिखाया है। चिलचिलाती धूप की भीषण गर्मी में एक दूसरे से सटकर खडे दिखाई दे रहे ये महिला और पुरूष प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सर्वेक्षण फार्म जमा करने के लिये आये हैं। जिसे लेकर पहले तो लोगों में काफी उत्साह दिखाई दिया कि अब उनका अपना घर होगा। लेकिन जब वे इसके लिए फार्म जमा करने के लिए लंबी लंबी लाइनों में लगे और कई दिन चक्कर काटने के बाद भी उनका नम्बर नहीं आया तो उनका धैर्य जबाव दे गया। इन लोगों का कहना है कि फार्म भरने का अंतिम दिन है और वे एक सप्ताह से लाइनों में भूखे प्यासे लगें है। लेकिन बदइंतजामी के कारण उनका नम्बर ही नहीं आ रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने पहले उन्हे नोटबंदी करके नोट बदलवानें के लिए बैंकों की लाइन में लगा दिया और अब आवास दिलाने के लिए लाइनों में धक्के खा रहे है। भारी भीड-भाड और अफरा-तफरी के कारण एक गर्भवती महिला तो चक्कर खाकर नीचे भी गिर गई थी। महिलाओं की मांग है कि फार्म जमा करने की तारीख को बढाया जाये और महिलाओं के लिये उचित प्रबंध किये जायें ताकि आसानी से ये फार्म जमा हो सकें।वहीं फरीदाबाद की महापौर सुमन बाला ने पूरे मामले पर कहा कि देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का 2022 तक सबको अपना घर देने का सपना है जिसका हर व्यक्ति लाभ उठाना चाहता है, बस इसी कारण से लोगों में अपने अपने घर का सपना है और जल्दबाजी भी कि कहीं रामराज्य की इस लूट से वो वंचित न रह जायें। इतना ही नहीं अंतिम दिन के डर से लोगों की हो रही अधिक भीड को देखते हुए मेयर सुमन बाला ने आश्वासन दिया है कि कोई भी इस योजना से वंचित नहीं रहेगा जल्द ही 10 दिन और बढा दिये जायेंगे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: