Wednesday, July 12, 2017

कांवड़ सेवा शिविरों के संबंध के ली डीसी ने अधिकारियों की बैठक

फरीदाबाद, 12 जुलाई,2017(abtaknews.com)इस बार भी श्रावण मास के दौरान हरिद्वार से पावन जल लेकर जिला की सीमा में लौटने वाले कांवडिय़ों की सुविधा, सुरक्षा व अन्य आवश्यक प्रबन्धों को सुनिश्चित करने तथा कांवड़ सेवा शिविरों के आयोजन के सम्बन्ध में आवश्यक दिशा-निर्देश देने के उद्देश्य से उपायुक्त समीरपाल सरो ने आज जिला के सम्बन्धित अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में बडख़ल के एसडीएम रीगन कुमार, बल्लबगढ़ के एसडीएम अमरदीप जैन, हुडा के सम्पदाधिकारी महाबीर प्रसाद, आरटीए सचिव आशुतोष राजन, मण्डल वन अधिकारी रंजीता एम.एच., उप पुलिस आयुक्त विक्रम कपूर, भूपेन्द्र सिंह व विरेन्द्र विज, जिला राजस्व अधिकारी पी.डी. शर्मा तथा जिला विकास एवं पंचायत अधिकारी जरनैल सिंह प्रमुख रूप से उपस्थित थे। उपायुक्त श्री सरों ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिले की सीमा में अधिकांश रूप में कांवडिय़े दिल्ली कालिन्दी कुंज की तरफ से पल्ला नहर पुल के नजदीक पहुंचेंगे। वे इसी रास्ते से होकर आगे जायेंगे।इनमें जिला से सम्बन्धित कांवडिय़ें के अलावा नजदीकी जिला पलवल तथा यूपी के कोसी, मथुरा, आगरा क्षेत्र या फिर और आगे के अन्य शहरों व गांवों से सम्बन्धित कांवडिय़े भी होंगे और कुछ तादाद में महिला कांवडिय़ां भी शामिल होंगी।उन्होंने कहा कि स्वयं सेवी संगठनों की तरफ से लगाए जाने वाले कांवड़ सेवा शिविरों की दूरी कम से कम दो किलोमीटर की रखनी होगी जोकि यातायात को निर्बाध रूप से रखने के उद्देश्य से सडक़ के पूर्व की ओर निर्धारित दूरी पर लगाने होंगे। श्री सरों ने स्वच्छता, अलग-अलग शौचालय, पानी, जैनरेटर सैट व्यवस्था, रिफ्रैशमैन्ट, प्राथमिक चिकित्सा, सुरक्षा, मॉडल शिविर व ओडीएफ सुनिश्चित करने सहित अन्य सभी आवश्यक प्रबन्धों को सुव्यवस्थित ढंग से पूरा करने बारे सम्बन्धित अधिकारियों व समाजसेवियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।बैठक में नगर निगम के मुख्य अभियन्ता डीआर भास्कर, एसीबी यशपाल खटाना, खण्ड विकास एवं पंचायत अधिकारी प्रदीप कुमार व पूजा शर्मा, सिंचाई विभाग के कार्यकारी अभियन्ता वीएस रावत, स्वास्थ्य अधिकारी अनूप कुमार तथा रोड़वेज अधिकारी अजमेर सिंह सहित कई अन्य सम्बन्धित अधिकारी व समाजसेवी उपस्थित थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: