Friday, July 21, 2017

निगमायुक्त सोनल गोयल ने की राज्य सरकार की अन्य योजनाओं की समीक्षा



फरीदाबाद, 21 जुलाई,2017(abtaknews.com )निगमायुक्त सोनल गोयल ने निगम कार्यालय में सीएम अनाउसमेंट से संबंधित एवं सभी विकास कार्य, आवारा पशु  मुक्त अभियान, साॅलिड वेस्ट मैनेजमेंट, प्राॅपर्टी टैक्स, टेªेेड लाईसेंस तथा स्वच्छ भारत मिशन के तहत शहर में सफाई व्यवस्था, खुले में शौचमुक्त फरीदाबाद और जलभराव संबंधी सहित राज्य सरकार की अन्य योजनाओं की समीक्षा की और उक्त योजनाओं को जल्द से जल्द पूरा करवाने के निर्देष दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देष दिए कि सीएम विंडो पर पिछले साल की पुरानी पड़ी षिकायतों का 24 घंटे में निपटान करें और जो 2017 में नई षिकायतें आई है उनका दो दिन के अंदर-अंदर समाधान करें।
मीटिंग में निगमायुक्त के संज्ञान में अधिकारियों ने बताया कि फरीदाबाद शहर में 1642 आवारा पषुओं की पहचान की गई है जिसमें से 249 आवारा पषुओं को गौषाला में भेजे जा चुके है। गांव मवई में बनी गौषाला में 1700 पषुओं को रखने की क्षमता है और वर्तमान में 1519 आवारा पषु वहां पहले रखे जा चुके है। इसी प्रकार ऊंचा गांव में बनी गौषाला में 475 पषु रखने की क्षमता है और वर्तमान में 473 आवारा पषुओं को रखा हुआ है। उन्होंने बताया कि आवारा मवेषी मुक्त क्षेत्र बनाने के नगर निगम क्षेत्र मे भी एक गौषाला का होना अति आवष्यक है। हालांकि 15 अगस्त 2017 तक शहर को पूरी तरह से आवारा पषु मुक्त करने का प्रयास किया जाएगा।
निगमायुक्त ने अधिकारियों को बताया कि एनआईटी विस क्षेत्र में गौषाला के लिए निगम ने डिप्टी कमिष्नर फरीदाबाद से अनुरोध किया है कि एनआईटी निर्वाचन क्षेत्र में गांव खेड़ी गुजरान में 5 एकड़ जमीन उपलब्ध है। मुख्यमंत्री घोषणा के तहत  उक्त जमीन का कुछ हिस्सा निगम को हस्तांतरण की जाए या पटटे के आधार पर आवंटित की जाए। ताकि यहां  नई गौषाला का निर्माण किया जा सके। ग्रामीण क्षेत्र में बनने वाली उक्त नई गौषाला में 600 आवारा पषुओं को स्थानान्तरित किया जाएगा।
मीटिंग में अधिकारियों ने बताया कि नगर निगम के 20 वार्ड पहले से खुले में शौच मुक्त हो चुके है और जो 20 वार्ड रह गए है उनमें 75 स्थान चिन्हित किए गए है जिन्हें खुले में शौचमुक्त करना है। निगमायुक्त ने तीनों जोनों के ज्वाइंट कमिष्नर और सब डिवीजन स्तर के कार्यकारी अभियंताओं को निर्देष दिए कि 20 वार्डों के 75 चिन्हित स्थान जो खुले में शौचमुक्त करने से रह गए है उनको 31 अगस्त खुले में शौचमुक्त करवाना सुनिष्चित करें।आईटी सैल के कार्यकारी अभियन्ता ने बताया कि प्राॅपर्टी  टैक्स, मैरिज सार्टिफिकेट, ट्रेड लाईसेंस आॅनलाईन सेवाओं के लिए निगम द्वारा कार्य किया जा रहा है। 30-9-2017 के बाद प्राॅपर्टी टैक्स और मैरिज सार्टिफिकेट, ट्रेड लाईसेंस बनाने की सेवायें पूरी तरह से आॅनलाईन कर दी जाएगी। इसके अलावा जन्म एवं मृत्यु विभाग का काम आॅनलाईन  द्वारा किया जा रहा है।
मीटिंग में निगमायुक्त के संज्ञान में लाया गया कि शहर में 34 अनाधिकृत कालोनी की पहचान निगम द्वारा की गई है जिनमें सर्वे का कार्य जारी है। हरियाणा शहरी स्थानीय निकाय विभाग द्वारा इन अनाधिकृत कालोनियों में 9 कालोनियों को अप्रवूड कर दिया गया है। इसके अलावा शहर के विकास में प्रगति और लोगों को सुविधा हेतू  माननीय मुख्यमंत्री घोषणा के तहत विकास की प्रगति को बढ़ावा दने के लिए शहर में आरएमसी सड़कें, सीवरेज लाईनों, इंटरलाॅकिंग टाइलों, नाले-नालियों पार्कों का कार्य प्रगति पर है।
मीटिंग में निगमायुक्त ने निगम के कार्यकारी अभियंताओं, सहायक अभियंताओं और कनिष्ठ अभियंताओं को डिवीजन स्तर पर प्रत्येक जोन में बरसाती सीजन में शहर की सफाई व्यवस्था, सीवरेज लाईनों की नियमित सफाई करें और अत्यधिक जलभराव क्षेत्र जहां पर पानी निकासी के व्यापक इंतजाम नहीं है उन स्थानों को चिन्हित कर पानी निकासी के अतिरिक्त ठोस प्रबंध करने के निर्देष दिए।
 उन्होंने अधिकारियों/कर्मचारियों से कहा कि बरसाती सीजन को देखते हुए वह स्वयं भी प्रत्येक दिन जलभराव और सफाई व्यवस्था को लेकर प्रतिदिन निरीक्षण कर रही है परन्तु फिर भी शहर के कुछ स्थानों पर जलभराव और सफाई व्यवस्था पूरी तरह से दुरूस्त नहीं है और उन्होंने सफाई विभाग के कार्यकारी अभियंता, सहायक अभियंता, सफाई निरीक्षकों को निर्देष दिए कि सफाई का कार्य प्रतिदिन सुचारू रूप से चलना चाहिए और सेक्टरों के दोनों तरफ रखे कूड़े के डस्टबिन में नियमित रूप से कूड़ा उठना चाहिए।मीटिंग में निगम के चीफ इंजीनियर डी.आर. भास्कर, अधीक्षण अभियंता रमेष बंसल, कार्यकारी अभियन्ता रमन शर्मा, श्याम सिंह, विजय ढाका, आनंद स्वरूप, लेखा अधिकारी सतीष कुमार, डीटीपी महीपाल सिंह, स्थापना अधिकारी विजय सिंह, एवं सहायक अभियन्ता, भी मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: