Wednesday, July 26, 2017

भगवान बाल्मीकि मंदिर कामुख्य द्वार बनाने में लोगों ने की बढ़-चढक़र कारसेवा


फरीदाबाद(abtaknews.com)यदि आज हर धर्म का व्यक्ति एक दूसरे के धार्मिक आयोजनों में अपना महत्वूपर्ण योगदान दे तो इससे समाज में फैले जहर को जड़ से खत्म किया जा सकता है। ऐसी ही एक पहल आज भगवान बाल्मीकि मंदिर के मुख्य द्वार को बनाने के कार्य में दिखी जहां कई धर्मो और संप्रदायों के लोगो ने बढ़ चढक़र कार सेवा की। इस मौके पर बाल्मीकि आश्रम धर्माथ सुधार ट्रस्ट के प्रधान किशोरी लाल व बाल्मीकि सेना के अध्यक्ष राकेश डिकयॉव ने इस कारसेवा में भाग लेने वाले सभी लोगों का धन्यवाद किया। इस अवसर पर प्रधान किशोरी लाल ने कहा कि इस मंदिर के मुख्यद्वार की कारसेवा करके लोगों ने जता दिया है मंदिर,गुरूद्वारा,गिरजाघर और मस्जिद सभी बराबर है। उन्होनें कहा कि सभी धर्म एक दूसरे से मिलजुलकर रहने  और भाईचारा बढ़ाने की सीख देते है। किशोरी लाल ने कहा कि इस मंदिर के निर्माण में जिस तरह हर समाज के तबके ने तन,मन और धन से सेवा की है उसे बाल्मीकि समाज हमेशा याद रखेगा। उन्होनें कहा कि जल्दी ही मंदिर में गऊशाला खुलने जा रही है जिसमें आकर कोई भी गऊसेवा करके पुण्य कमा सकता है। किशोरी लाल ने कहा इसके अलावा गरीब बच्चों का स्कूल और महिलाओं का सिलाई केन्द्र भी जल्दी ही  इस मंदिर प्रांगण में होगा।
इस अवसर पर शादीराम,लक्ष्मणटांक,राजू परचारी,राकेश चन्दू फोरमैन,सोहनलाल खलीफा,                  सतबीर,अशोक,चौ.खूबीराम,मनोहलाल,श्रीचन्द,राजूभारती,रमेश,महेश,मामचन्द,हरीश, रम्मी,जमील खान,अब्ुदलहनीफ,सलीम,सतीशसहयोगी,विनोद,वेदू,अमित,मनोज,सरदारसुरेन्द,धनसिंह,दर्शन,चैनी,सरदार कुलजीता सिंह ,प्रतीक शर्मा मौजूद थे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: