Monday, July 3, 2017

बाढ़ में बचाव के लिये गोताखोरों को कराया स्वीमिंग पूल में प्रशिक्षण

फरीदाबाद 3 जुलाई,2017(abataknews.com)उपायुक्त समीरपाल सरो के आदेशानुसार तथा जिला राजस्व अधिकारी पी.डी. शर्मा के दिशा-निर्देशानुसार आपदा प्रबन्धन विषय विशेषज्ञ डा. एम.पी. सिंह ने बाढ़ सुरक्षा सप्ताह के तहत खेल परिसर सैक्टर-12 स्थित स्वीमिंग पूल में गोताखोरों को प्रशिक्षण दिया। इसमें नायब सदर कानूनगो यशवन्त सिंह व रिसर्च आफिसर अंकिता प्रसून का अह्म योगदान रहा। पी.डी. शर्मा ने बताया कि यह कार्यक्रम जिला प्रशासन व आपदा प्रबन्धन केन्द्र हिपा गुरूग्राम के माध्यम से शहर के विभिन्न स्थानों पर करवाया जा रहा है। जिसमें मास्टर ट्रेनर एम.पी. सिंह ने कहा कि तैराकों को कभी डूबने वाले के आगे से नहीं आना चाहिए बल्कि पीछे से धक्का देकर बाहर निकालना चाहिए। बाढ़ के दौरान अनेकों प्रकार के सांप सामने आ जाते हैं उनसे डरना नहीं चाहिए क्योंकि पानी की लहरों से उनका जहर खत्म हो जाता है। उन्होंने कहा कि बिना समय गंवाये अतिशीघ्र राहत कार्य करना चािहए क्योंकि जीवन अनमोल होता है। यदि किसी भी प्रकार का खतरा तैराक को लगता है तो उसे लाइफ जाकेट का प्रयोग कर लेना चाहिए और ओवर कॉन्फिडैंस में नहीं रहना चाहिए। जिला राजस्व अधिकारी ने बताया कि उपायुक्त समीरपाल सरो चाहते हैं कि जिले में किसी भी प्रकार का हादसा न हो इसलिए बाढ़ से होने वाले नुकसान से बचाव के लिए पूर्व तैयारी की जा रही है। श्री शर्मा ने बताया कि इस कार्य के लिए स्वयं उन्हें नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। जिसमें डा. एम.पी. सिंह बतौर मास्टर ट्रेनर अपनी सेवाएं देकर लोगों का मार्गदर्शन कर रहे हैं। आज एम.पी. सिंह ने स्वीमिंग पूल में अनट्रेंड बच्चे को डुबोया और गोताखोरों ने अतिशीघ्र उसको सुरक्षित निकाला। इस अवसर पर एम.पी. सिंह ने डूबे व्यक्ति को पानी से बाहर निकालने के तरीके प्रैक्टिकल करके बताये और उसके जीवन को बचाने की पूर्ण जानकारी दी। इसके अलावा सभी प्रतिभागियों से भी प्रैक्टिकल करवाये गए। इस अवसर पर मंझावली के सरपंच राजेश, शाहजहांपुर व छायंसा के सरपंच भी मौजूद थे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: