Saturday, July 1, 2017

सरकार की अनदेखी के चलते गिर रहा है शिक्षा का स्तर : तेजराम गौड

फरीदाबाद(abtaknews.com)राष्ट्रीय आतंकनाशी मंच के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष तेजराम गौड ने कहा कि सरकार की अनदेखी के चलते शिक्षा का स्तर गिर रहा है और गरीब बच्चों का भविष्य अंधेरे में है। आज शिक्षा का पूरी तरह व्यवसायीकरण हो चुका है। केवल पेसे वालो के बच्चे ही अच्छे संस्थानों में एडमिशन पा सकते हें और अच्छी कोचिंग ले सकते हैं। गरीबों के बच्चों को न तो वो फैसिलिटी मिल पाती है और न ही उनके पास कोचिंग के लिए पैसे होते हैं, जिसकी वजह से वो अच्छी शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाते और उनका भविष्य अंधेरे में रह जाता है। उक्त वक्तव्य श्री गौड ने राष्ट्रीय आंतकनाश मोर्चे की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कहे। बैठक में मोर्चे की महिला राष्ट्रीय अध्यक्ष सपना ग्रोवर ने कहा कि जहां तक अध्यापकों की शिक्षा एवं जनरल नॉलेज का सवाल है, तो वह बहुत कम है। सरकार को अध्यापकों की एक क्लास लेनी चाहिए। सरकार को चाहिए कि अपने स्कूलों के गिरते स्तर को सुधारे। उन्होंने कहा कि हरियाणा में दिन-प्रतिदिन सरकारी और निजी स्कूलों के झगड़ों के कारण बच्चों की पढ़ाई का स्तर गिरता जा रहा है। निजी स्कूल अपनी मनमानी कर रहे हैं, जिससे बच्चों की पढ़ाई पर बुरा असर पड़ रहा है। इस अवसर पर मंच के राष्ट्रीय संयोजक आलोक चतुर्वेदी, सतीश स्वामी, स्वामी मदन गिरी, रमेश मोटा, राजेश दहिया, आकाश चतुर्वेदी, परमजीत दूबे, नितिश शर्मा, उमेश रैना, राशिद सिद्दीकी, अनिल शर्मा, प्रदीप शर्मा, संकेत वाजपेयी और सतीश पंडित आदि उपस्थित रहे। ।

loading...
SHARE THIS

0 comments: