Wednesday, July 5, 2017

केंद्रीय राज्यमंत्री गुर्जर ने बड़खल विधानसभा उपमंडल तहसील का किया उद्घाटन




फरीदाबाद(abtaknews.com) केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर ने आज बड़खल विधानसभा तहसील का उदघाटन किया और कहा की मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और क्षेत्र की विधायिका एवम सीपीएस सीमा त्रिखा के प्रयासों के चलते यह सब संभव हो सका है इससे क्षेत्र के करीब पांच लाख लोगो को सुविधाएं मिलेगी और उनके तमाम काम इस तहसील में हो सकेंगे. इस तहसील के शुरू होने से बड़खल, एनआईटी विधानसभा और बल्लभगढ़ के कुछ हिस्से के लोगो को इसका लाभ मिलेगा. 
badkhal-sub-tehsil-inauguration-faridabad

लंबे इंतज़ार के बाद आखिरकार आज बड़खल विधानसभा की नयी तहसील का शुभाआरम्भ केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर के करकमलों द्वारा किया गया. इस मौके पर हवन यज्ञ करके राज्यमंत्री ने विधिवत तहसील का उदघाटन किया. इस तहसील के शुरू हो जाने के बाद अब शहर के लोगो को मथुरा रोड पार करके सेक्टर 12 के लघुसचिवालय में अपने कामो के लिए नहीं जाना पडेगा. इस मौके पर केंद्रीय राज्यमंत्री ने मुख्यमंत्री और सीपीएस सीमा त्रिखा का धन्यवाद किया और कहा की इनके प्रयासों से ही आज बड़खल तहसील का शुभाआरम्भ हो सका है. उन्होंने कहा की इस तहसील के शुरू हो जाने से बड़खल विधान सभा के अलावा एनआईटी विधानसभा और बल्लभगढ़ विधानसभा के कुछ क्षेत्र के लोगो को इसका सीधा लाभ मिलेगा और आज लोगो की बरसो पुरानी मांग पूरी हो गयी है जिसे सीपीएस सीमा त्रिखा ने मंजूर करवाया. उन्होंने कहा की क्षेत्र के पांच लाख लोगो को इसका सीधा लाभ मिलेगा.   
बड़खल विधानसभा क्षेत्र की विधायिका एवम सीपीएस सीमा त्रिखा ने कहा की पिछले साल क्षेत्र में हुई विकास रैली के दौरान उन्होंने इस तहसील के लिए मुख्यमंत्री के आगे मांग रखी थी जिसे मुख्यमंत्री के आशीर्वाद से आज अमलीजामा पहनाया गया. उन्होंने कहा की इस तहसील के शुरू होने से यहाँ के लोगो को तमाम प्रशासनिक सेवाएं मिलना शुरू हो गयी है जिसमे रजिस्ट्री , ड्राइविंग लाइसेंस , गाड़ियों की रजिस्ट्रेशन , आधार कार्ड आदि सम्बंधित सभी सेवाएं शामिल है. उन्होंने कहा की अब लोगो को सेक्टर 12 लघुसचिवालय में नहीं जाना पड़ेगा.     
इस अवसर पर सीपीएस सीमा त्रिखा, विधायक मूलचंद शर्मा,एडवोकेट अश्वनी त्रिखा, मेयर सुमन बाला,वरिष्ठ महापौर देवेंद्र चौधरी, भाजपा नेता मनोज खंडेलवाल एवं अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे। 



loading...
SHARE THIS

0 comments: