Monday, July 17, 2017

सिविल अस्पताल की लापरवाहियों से नाराज समाजसेवियों ने फूंका सीएमओ का पुतला

फरीदाबाद 17 जुलाई,2017(abtaknews.com)फरीदाबाद सिविल अस्पताल में पिछले कुछ महीनों से लगातार समाने आ रही स्वास्थ्य विभाग की लापरवाहियों से गुस्साये फरीदाबाद के दर्जनों समाजसेवियों ने सीएमओ का पुतला फूंका और सरकार से मांग की कि सिविल अस्पताल के सीएमओ और पीएमओ को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त किया जाये। दर्जनों संस्थाओं के पदाधिकारी दो दिन पहले सिविल हस्पताल मे बच्ची के शव को पिता द्वारा कंधे पर ले जाने से गुस्साये हुए हैं। समाजसेवियों ने मांग की है कि डा. विरेन्द्र यादव को सिविल अस्तपाल का कार्यभार सोंपे ताकि अस्पताल की दिशा औ दशा दोनों सुधार हो सके। हाथो में पुतला उठाये और नारेबाजी करते दिखाई दे रहे यह नाराज़ लोग फरीदाबाद के समाजसेवी है जो कि सिविल अस्पताल में आये दिन लापरवाही का शिकार हो रहे बिमार और उनके तिमारदारों की बजह से अस्पताल प्रशासन से नाराज हैं। और हों भी क्यों न कभी अस्पताल से बच्चा चोरी हो जाता है तो कभी डाक्टरों की लापरवाही से किसी की मौत हो जाती है। इस बार जो हुआ वो बेहद ही शर्मनाक घटना थी। दो दिन पहले सरकारी हस्पताल में लापरवाही से हुई बच्ची की मौत और उसके बाद एम्बुलेंस ना मिलने की वजह से उसके परिजनों को बच्ची का शव कंधे पर रखकर ले जाना पडा। नाराज़ लोगो ने बताया की दो दिन पहले एक गरीब परिवार की 9 साल की बेटी के शव को कंधे पर ले जाने के मामले को लेकर वह आक्रोश में है । कहने को तो फरीदाबाद स्मार्ट सिटी है लेकिन इस तरह के हालात से यह साफ़ होता है की फरीदाबाद जैसे शहर में आज भी गांवो से बदतर हालात है। उन्होंने हस्पताल के सीएमओ पर आरोप लगाते हुए कहा कि जबसे गुलशन राय आरोड ने चार्ज संभाला है तबसे हस्पताल में लापरवाही होती जा रही है चाहे वह साफ़ सफाई में हो , या बच्चा चोरी होने का मामला हो या फिर बच्ची के शव को कंधे पर रखकर ले जाने का हो । ऐसी तस्वीरें रोजाना फरीदाबाद के सिविल हस्पताल में देखने को मिलती है । उन्होंने बताया की जहाँ सरकार बात करती है बेटी बचाओ बेटी पढ़ाया वहीँ आज बेटी के मरने के बाद उसको एम्बुलेंस या मोर्चरी वैन मुहैय्या नहीं करवाई जाती । उन्होंने सख्त लहजे में सरकार से मांग की है कि सरकार लापरवाही करने वाले सीएमओ को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त करके अस्पताल का चार्ज डा विरेन्द्र यादव को सोंप देना चाहिये।

loading...
SHARE THIS

0 comments: