Sunday, July 9, 2017

पति सास और देवर की प्रताड़ना से तंग महिला इंसाफ के लिए काट रही है चक्कर

फरीदाबाद(abtaknews.com)09july,2017: दिल्ली से पांच साल पहले ब्याह कर फरीदाबाद आई एक बहु ने शादी के कुछ समय बाद ही अपने पति सास और देवर के द्वारा प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है , उसका कहना हैं की एक दिन उसके साथ तीनो ने मिलकर मारपीट की जिसकी सुचना उसने 100 नंबर पर फोन कर पुलिस को दी लेकिन पुलिस ने उसके बाद भी कोई कारवाही नहीं की,जैसे तैसे वह उनके चंगुल से निकल भागी और अब वह अपने भाई के साथ मिलकर आरोपियों को उनके किये की सजा दिलाना चाहती है। लेकिन पुलिस है की उसे कभी इस थाने तो कभी उस थाने के चक्कर लगवा रही है। जिसके बाद इंसाफ की गुहार लेकर वह पुलिस कमिशनर से मिलने उनके ऑफिस पहुंची लेकिन उसकी मुलाकात नहीं हो सकी।जिससे परेशान होकर आखिर पीड़िता के भाई के मुँह वो निकला जिसे सुनकर आप हैरान रह जायेंगे -सुनिए--सुना था की हरियाणा पुलिस इंसाफ नहीं करती आज देख भी लिया आँखों से ,हरियाणा पुलिस के बारे में जितना सुना था वो आज सच साबित हो गया। हरियाणा सरकार बेटी बचाने बेटी पढ़ाने और महिलाओ की सुरक्षा के लिए भले ही कितने दावे क्यों न करती ही लेकिन उसका अपना ही सरकारी महकमा हरियाणा सरकार के हर दावे को ठेंगा दिखाने का काम करता है। सूबे की मनोहर सरकार ने महिलाओ को न्याय दिलाने के लिए स्पेशल महिला थाने भले ही खुलवा दिए लेकिन आज भी महिलाओ को न्याय नहीं मिल रहा है और वह न्याय के लिए इधर उधर की ठोकरें खा रही है। इसका जीता जगाता सबुत है यह महिला जो अपनी एक मासूम बेटी और भाई से साथ कभी इस थाने तो कभी उस थाने न्याय की गुहार लगा रही है यह दिल्ली की रहने वाली है और इसकी शादी पांच साल पहले फरीदाबाद के पल्ला निवासी मनोज शर्मा के साथ हुई थी। इसका आरोप है की शादी के कुछ समय बाद ही अपने पति सास और देवर के द्वारा प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है ,इतना ही उसका कहना हैं की एक दिन उसके साथ तीनो ने मिलकर मारपीट की जिसकी सुचना उसने 100 नंबर पर फोन कर पुलिस को दी लेकिन पुलिस ने उसके बाद भी कोई कारवाही नहीं की ,जैसे तैसे वह उनके चंगुल से निकल भागी और अब वह अपने भाई के साथ मिलकर आरोपियों को उनके किये की सजा दिलाना चाहती है लेकिन पुलिस है की उसे कभी इस थाने तो कभी उस थाने के चक्कर लगवा रही है। जिसके बाद इंसाफ की गुहार लेकर वह पुलिस कमिशनर से मिलने उनके ऑफिस पहुंची लेकिन उसकी मुलाकात नहीं हो सकी। पीड़िता के भाई जितेंद्र ने आरोप लगाते हुए कहा की उसकी बहन को उसका पति देवर और सास पिछले काफी समय से मानसिक और शारीरिक तौर पर प्रताड़ित कर रहे है वह आरोपियों के खिलाफ कारवाही और अपनी बहन को न्याय दिलाने के लिए स्थानीय थाने सराय ख्वाजा गया लेकिन उसे वह से महिला थाने भेज दिया गया उसे बार -बार कभी इस थाने तो कभी उस थाने के चक्कर कटवाया जा रहा है इतना ही नहीं वह स्थानीय थाने सराय ख्वाजा और महिला थाने के चक्कर काट काट कर थक चूका है लेकिन पुलिस है की उसकी एक भी सुनने को तैयार नहीं है.उसी से परेशान होकर वह आज इंसाफ की गुहार लेकर पुलिस कमिशनर से मिलने उनके ऑफिस पहुँचे थे लेकिन उसकी मुलाकात नहीं हो सकी।पीड़िता के भाई परेशान होकर कहा की मैंने सुना था की हरियाणा पुलिस इंसाफ नहीं करती आज देख भी लिया आँखों से ,हरियाणा पुलिस के बारे में जितना सुना था वो आज सच साबित हो गया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: