Thursday, July 27, 2017

गुरू रंधावा के गीतों पर झूमे एश्लान के छात्र


Guru-Randhava-performe-Echelon-College-Greater-Faridabad

फरीदाबाद 27 जुलाई,2017(abtaknews.com )’ ओ तेनू तेनू सूट सूट करदा लगदी पंजाबन लगदी पटोला’ के शब्द जब एश्लॉन इंस्टीटयूट में पंजाबी गायक गुरू रंधावा ने अपने मधुर अवाज से उपस्थितजनो के बीच गाया तो उपस्थित जनसमूह में उत्साह व उल्लास का माहौल देखने लायक था। इस संगीत नाईट का आयोजन एश् लान इंस्टीटयूट ऑफ टैक्रालॉजी द्वारा किया गया था जिसमें गुरू रंधावा ने गीतों के माध्यम से उपस्थित सभी छात्र छात्राओं सहित स्टाफ को मंत्रमुग्ध कर दिया।
संगीत नाइ्रट से पूर्व पत्रकारो से बातचीत करते हुए गुरू रंधावा ने कहा कि आडियशन ही मेरी सब कुछ है क्योकि आज इनकी बदौलत में इस मुकाम पर पहुंचा हुं उन्होंने कहाकि मैं इन सब की तरह हुं और सदैव ऐसा ही रहूंगा। उन्होंने कहा कि आडियंस मेरी दाल रोटी है और इनको मान सम्मान देना मेरा पहला कर्तव्य बनता है। उन्होंने उपस्थित छात्र छात्राओ को संदेश दिया कि वह भगवान के बाद अपने माता पिता व गुरू का सम्मान व उनका आदर करे तभी आप एक अच्छे इंसान बन सकते है।
इस अवसर पर फरीदाबाद व आसपास के स्कूलों व महाविद्यालयों से हजारो की संख्या में आए जनसमूह ने गुरू रंधावा के गीतों का आनंद उठाया और खूब थिरके भी। उनकी प्रत्येक प्रस्तुति पर जन समूह नाचते झूमते हुए पूर्ण आनंदितमय रहे। पूर्णतय विद्यार्थियों द्वारा आयोजित इस संगीतमय कार्यक्रम की सभी उपस्थित जनो ने भूरि भूरि प्रशंसा की।
इस मौके पर संस्थान के प्राचार्य प्रोफेसर डा. प्रवीन पाण्डेय ने बताया कि संगीत संध्या से पूर्व दोपहर सातवे सैमेस्टर के विद्यार्थियों ने अपने सीनियर साथियों के सम्मान में विदाई समारोह का भी आयोजन किया जिसमें उन्हें भावभीनी विदाई दी गयी। अपने अग्रज साथियों संग बिताये गये तमाम सुखद पलों व उनके मार्गदर्शन का स्मरण करते हुए उनके गुणों अनुरूप उन्हें सम्माजनक टाईटल के माध्यम से उपहार भी दिये।
इस मौके पर अपने धन्यवाद भाषण में सीनियर विद्यार्थियों ने अपने अनुजों द्वारा एश् लॉन की इस गौरवमय प्रथा को जारी रखते हुए आयोजित विदाई समारोह की प्रशंसा की तथा उन्हें परामर्श दिया कि वे एश लॉन इंस्टीटयूट के अनुशासन उत्तम पाठन , वातावरण व गरिमा को सदैव बनाये रखे। सीनियर छात्रों ने इंस्टीटयूट के मैनेजमेट एवं शिक्षकों के प्रति उत्तम शैक्षिणक स्तर प्रदान करने तथा प्लेसमेंअ के विभिन्न अवसर प्रदान करने के लिए अपनी कूृतज्ञता की


loading...
SHARE THIS

0 comments: