Sunday, July 9, 2017

पिंजौर में आयोजित 26वां आम मेला आज संपन्न

पिंजौर(abtaknews.com)09,2017; उद्यान विभाग, हरियाणा तथा हरियाणा पर्यटन निगम द्वारा ऐतिहासिक यादविन्द्रा बाग, पिंजौर में गत वर्षों की भांति दिनांक 08 व 09 जुलाई, 2017 को आम मेले का आयोजन किया गया। इस मेले का उद्द्याटन माननीय रामबिलास शर्मा, पर्यटन मंत्री, हरियाणा सरकार द्वारा दिनांक 08.07.2017 को किया गया तथा इस मेले के समापन समारोह के मुख्य अतिथि माननीय श्रीमति सीमा त्रिखा, मुख्य संसदीय सचिव, पर्यटन विभाग हरियाणा सरकार रहे। इसके अतिरिक्त माननीय श्री रतन लाल कटारिया, सांसद अम्बाला, श्रीमति लतिका शार्मा, विधायक कालका व श्री जगदीश चैपडा, चैयरमैन हरियाणा पर्यटन निगम विशिष्ट अतिथि के तौर पर समापन समारोह मे उपस्थित रहे। जिन्होने दिनांक 09.07.2017 को समापन समारोह में आमों की विभिन्न श्रेणियों में रखी गई प्रतियोगिता में विजेता रहे किसानों/संस्थानों को पुरस्कार वितरित किए।
इस मेलें में विभिन्न राज्यों हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड, केन्द्र शासित प्रदेश चण्डीगढ़ व दिल्ली आदि से प्रतियोगता में आमों की कुल 4049 प्रविष्टियां प्राप्त हुई। जिनमें हरियाणा से 3848 व अन्य राज्यो से 201 प्रविष्टियां प्राप्त हुई। जिनको 9 श्रेणियों में विभाजित किया गया था। प्रत्येक श्रेणी में आम उत्पादकों तथा आम के उत्पाद बनाने वाले संस्थानों तथा किसानों के लिए प्रतियोगिताएं रखी गई थी, जिनके अनुसार श्रेणी-ए व बी में आमों की व्यवसायिक किस्मों को रखा गया था। इसमें हरियाणा राज्य के 37, पंजाब के 8, उत्तर प्रदेश के 8, हिमाचल प्रदेश के 8, दिल्ली 1 व उत्तराखण्ड का 1 किसान/संस्थान विजेता रहें। श्रेणी-ए में रखी सभी व्यवसायिक कैटेगिरियों में कुल 6 विजेताओं को ईनाम दिए गए, जिनमें प्रत्येक विजेता को एक शिल्ड तथा प्रमाण पत्र दिऐ गऐ। श्रेणी-बी में कुल 27 विजेताओं को ईनाम (12 प्रथम तथा 15 द्वितिय) प्रथम स्थान पर रहे विजेता को रू 5100/- शील्ड व प्रमाण पत्र इसी प्रकार द्वितिय स्थान पर रहे विजेता को रू 2100/- शील्ड व प्रमाण पत्र दिऐ गऐ। श्रेणी-सी में आम के उत्पादों के लिए प्रतियोगिता थी। जिसमें 9 प्रथम पुरस्कार तथा 11 द्वितिय पुरस्कार दिए गए। जिनमें प्रथम पुरस्कार पाने वाले को रू 5100/- की राशि व शील्ड तथा प्रमाण पत्र तथा द्वितिय पुरस्कार पाने वाले को रू 2100/- की राशि व शील्ड तथा प्रमाण पत्र दिए गए। कैटेगरी-डी में आम के प्रदर्शन के लिए प्रतियोगिता रखी गई थी जिसमें कुल 3 विजेता (प्रथम, द्वितिय तथा सांत्वना पुरस्कार) हेतू चुने गए, सतीश कुमार पुत्र चमन लाल, गांव बेहट, सहारनपुर, उत्तर प्रदेश को आम केसरी पुरस्कार के लिए प्रथम विजेता, निर्मल पुत्र कर्म सिंह तौमर, गांव धर्माेवाला, उत्तराखण्ड को द्धितिय तथा तफजील अहमद पुत्र सिजिल अहमद, सहारनपुर, उत्तर प्रदेश को सांत्वना पुरस्कार के लिए विजेता घोषित किया गया। प्रथम पुरस्कार के रूप में रू 15,000/- की राशि, शील्ड तथा प्रमाण पत्र, दूसरे स्थान पर रहे विजेता को रू 11,000/-की राशि व शील्ड तथा प्रमाण पत्र इसी प्रकार सांत्वना पुरस्कार के रूप में विजेता को रू 5,100/-की राशि तथा शील्ड व प्रमाण पत्र दिए गए। कैटेगरी-ई में आम की सर्वश्रेष्ठ खेती करने वाले किसानों/जिलों के लिए रखी गई थी, जिसमें कुल 3 पुरस्कार दिए गए। जिसमें प्रथम विजेता रमन सलुजा पुत्र श्री सतीश सलुजा, गांव फैजपुर, तहसील खिजराबाद, यमुनानगर को 51000/-रु की राशि, द्वितीय विजेता सलैन्द्र प्रताप सिंह पुत्र अजय सिंह, गांव थाम्बाबाद, तहसील बराडा, जिला अम्बाला को 21000/-रु की राशि तथा तृृतीय विजेता नरेन्द्र नाथ पुत्र देवीदयाल, गांव गढी कोठहा, तहसील रायपुररानी, पचंकुला को 11000/-रु की राशि, शील्ड व प्रमाण-पत्र दिऐ गऐ। अन्य राज्यों में जिला पठानकोठ, पंजाब के श्री राहुल महाजन पुत्र राजीव महाजन, गांव मोमुन, जिला कांगडा, हिमाचल प्रदेश से करतार सिंह पुत्र मुन्शी राम, गांव पंडेर, नुरपुर व उत्तराखण्ड राज्य से दीप बेलवाल को सर्वश्रेष्ठ आम अत्पादक के रूप में विजेता घोषित किया गया। प्रत्येक को 11000/� की राशि, शील्ड व प्रामण-पत्र दिया गया। जिला युमनानगर को सर्वश्रेष्ठ तथा जिला अम्बाला को द्वितीय आम उत्पादक जिला भी घोषित किया गया। इसके लिए जिला उद्यान अधिकारी, युमनानगर को प्रथम तथा जिला उद्यान अधिकारी, अम्बाला को द्वितीय पुरुस्कार के रुप मे शील्ड तथा प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: