Friday, June 9, 2017

पलवल में संत कबीरदास जयंती समारोह में सीपीएस सीमा त्रिखा


पलवल, 09 जून,2017(abtaknews.com) कबीरदास जी एक महान संत थे। जिनके विचार आज भी हमारे समाज को व्यवहारिक ज्ञान देते हैं। उन्होंने अपने दोहो में गुरू-महिमा व ईश्वर-महिमा आदि का वर्णन बड़ी आत्मीयता से किया है। 


यह विचार मुख्य संसदीय सचिव श्रीमती सीमा त्रिखा ने बतौर मुख्य अतिथि आज यहां स्थानीय महात्मा गांधी सामुदायिक केन्द्र एवं पंचायत भवन में आयोजित संत कबीरदास जी की जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित सेमीनार को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए। 
इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत, श्रम विभाग के वाईस चेयरमैन हरी प्रकाश गौतम, जिला परिषद की प्रधान श्रीमती चमेली देवी सोलंकी, नगर परिषद पलवल की चेयरमैन इंदु भारद्वाज, अतिरिक्त उपायुक्त अंजू चौधरी, पलवल के उपमण्डल अधिकारी(ना.) एस.के. चहल मुख्य रूप से मौजूद थे। 
सीमा त्रिखा ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी को संत कबीरदास जी की दार्शनिक बातें, जो समाज में व्याप्त बुराइयों को समाप्त करके एकता व भाईचारे को बढ़ाने का संदेश देती हैं का अनुसरण करना चाहिए ताकि हमारा समाज सौहार्दपूर्ण और पे्रम की मिसाल कायम कर सके। समाज जागेगा, समाज बढ़ेगा तो देश बढ़ेगा । परिवार और समाज को आगे बढ़ाए  बैगर देश व प्रदेश आगे नहीं बढ़ सकता ।
उन्होंने कबीर के दोहो को दोहराते हुए कहा कि हमें आज भी उनके दोहों को नहीं भूलना चाहिए। 
माटी कहै कुम्हार से, क्या तू रौंदे मोय।
एक दिन ऐसा होयगा, मैं रौंदूगीं तोय।।
बड़ा हुआ तो क्या हुआ, जैसे पेड़ खजूर।
पंथी को छांया नहीं, फल लागे अति दूर।।
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल का  लक्ष्य अंतोदय है। उनकी सोच है कि अंतोदय मूलमंत्र के कारण देश व प्रदेश के पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति को भी सरकार द्वारा दिए जा रहे लाभ का फायदा पहुंचाना है। देश व प्रदेश में सभी वर्गों के लिए जन कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं। महापुरूषों की जयंती मनाने से समाज में समरसता का भाव बढ़ता है। 
मुख्य संसदीय सचिव ने जिला पलवल के 10वीं व 12वीं बोर्ड की परीक्षा में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले लगभग 32 छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया। उपायुक्त अशोक कुमार ने संत कबीरदास जी जयंती पर मुख्य संसदीय सचिव का स्वागत व्यक्त करते हुए कबीरदास जी के दोहे आज भी हमें पे्ररणा देते हैं। 
गुरू गोबिन्द दोऊ खड़े, काके लागूँ पाँय।
बलिहारी गुरू आपने, गोविन्द दियो बताय।।
उपायुक्त ने कहा कि हमारे समाज में गुरू का बड़ा महत्व है। हमें अपने गुरू का आदर और मान-सम्मान करना चाहिए। उन्होंने आशा व्यक्त की कि आने वाले समय में देश व प्रदेश में शिक्षा के क्षेत्र में पलवल के विद्यार्थी ऊंचा स्थान प्राप्त कर क्षेत्र का नाम रोशन करेंगे।  
इस अवसर पर विवेकानंद वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की छात्राओं ने स्वागत गीत व रेणुका, पिंकी ने संत कबीर दास जी की जीवनी पर प्रकाश डाला। और योगिता, खुशबू, कृष्णा, ममता, हेमलता ने संत कबीर दास जी के दोहों की व्याख्या की।
मुख्य अतिथि मुख्य संसदीय सचिव श्रीमती सीमा त्रिखा ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम का मंच संचालन प्राध्यापक बलबीर सिंह ने किया। 
कार्यक्रम में पलवल पंचायत समिति के चेयरमैन पे्रमचन्द, पवन अग्रवाल, जय सिंह चौहान, जिला शिक्षा अधिकारी अनिल शर्मा, जिला बाल कल्याण अधिकारी श्रीमती वंदना शर्मा, खण्ड शिक्षा अधिकारी अशोक बघेल, सुखबीर सिंह, दरियाव सिंह सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: