Friday, June 2, 2017

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा व सीटू ने रोहतक लाठीचार्ज एवं गिरफ्तारी की घोर निंदा की


फरीदाबाद, 02 जून,2017(abtaknews.com)सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा व सीटू ने रोहतक स्थित आईसन ऑटोमोटिव कारखाने के मजदूरों पर किए बर्बरतापूर्ण लाठीचार्ज एवं गिरफ्तारी की घोर निंदा की है। इन संगठनों ने सरकार के इस कदम को जापानी मालिकों को खुश करने के लिए जनतांत्रिक अधिकारों का दमन करार दिया है। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा व सीआईटीयू के शिष्टमंडल ने आज मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन जिला उपायुक्त की गैर मौजूदगी में तहसीलदार को दिया। मुख्यमंत्री को भेजे ज्ञापन में आईसन कंपनी के आंदोलनरत्त गिरफ्तार मजदूरों को बिना शर्त रिहा करने, काम से निकाले गए सभी मजदूरों को तुरंत नौकरी पर बहाल करने, श्रम कानूनों की घोर उल्लंघना के आरोप में आईसन कंपनी प्रबंधन के खिलाफ कड़ी कार्यवाही करना व मजदूरों पर लाठीचार्ज करने वाले पुलिस अधिकारियों पर कार्यवाही करने की मांग की गई है। शिष्टमंडल में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के महासचिव सुभाष लाम्बा, जिला प्रधान अशोक कुमार, सचिव युद्धवीर सिंह खत्री, खंड प्रधान परमाल सिंह, उपप्रधान करतार सिंह, सचिव टीकाराम शर्मा, उपप्रधान मुकेश बेनीवाल, सीआईटीयू के प्रांतीय उपप्रधान लालबाबू शर्मा, जिला प्रधान निरंतर पाराशर व उपप्रधान विजय कुमार झा आदि नेता शामिल थे।
सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के महासचिव सुभाष लाम्बा व सीआईटीयू के जिला प्रधान निरंतर पारशर ने बताया कि रोहतक प्रशासन ने 31 मई को शांतिपूर्वक आंदोलन चला रहे आईसन कंपनी के मजदूरों पर भयंकर लाठीचार्ज किया व 425 मजदूरों को विभिन्न धाराएं लगाकर जेल में डाल दिया गया। इनमें 35 महिला मजदूर भी हैं। उन्होंने बताया कि कंपनी प्रबंधन ने 3 मई से सभी 700 के करीब मजदूरों का गेट बंद कर रखा है। कंपनी ने बिना कोई कारण बताए 3 मई को पहले 20 मजदूरों को नौकरी से निकाल दिया और इसका विरोध करने पर सभी मजदूरों का गेट बंद कर दिया। लगभग 700 मजदूर 3 मई से शांतिपूर्वक तरीके से आंदोलन चलाए हुए हैं। शांतिपूर्वक आंदोलन के बावजूद रोहतक प्रशासन द्वारा की गई उक्त कार्यवाही जापानी मालिकों को खुश करने के लिए जापानी अधिकारों के दमन का मामला है। उक्त नेताओं ने चेतावनी दी कि अगर शीघ्र बातचीत से मसले का समाधान नहीं हुआ तो प्रदेश स्तर पर आंदोलन छेड़ा जाएगा।


loading...
SHARE THIS

0 comments: