Monday, June 5, 2017

मारवाड़ी युवा मंच व श्री खंडल विप्र सभा ने फरीदाबाद में लगाई छबील


फरीदाबाद (abtaknews.com)हिंदू धर्म में एकादशी का व्रत महत्वपूर्ण स्थान रखता है। प्रत्येक वर्ष चौबीस एकादशियाँ होती हैं। जब अधिकमास या मलमास आता है तब इनकी संख्या बढ़कर २६ हो जाती है। ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहते है इस व्रत मे पानी का पीना वर्जित है इसिलिये इस निर्जला एकादशी कहते है। आप ज्येष्ठ मास की शुक्ल पक्ष की निर्जला नाम की एक ही एकादशी का व्रत करो और तुम्हें वर्ष की समस्त एकादशियों का फल प्राप्त होगा। निःसंदेह तुम इस लोक में सुख, यश और प्राप्तव्य प्राप्त कर मोक्ष लाभ प्राप्त करोगे। निर्जला एकादशी पीछले वर्ष की तरह मारवाड़ी युवा मंच फरीदाबाद सहयोगी  संस्था श्री खंडल विप्र सभा (रजि) फरीदाबाद टीम ने  बी.क चौक पर छबील( मीठा सरबत ) लगाई ,मारवाड़ी युवा मंच के सयोजक – विमल खंडेलवाल,मधुसुदन माठोलिया जी ने कहा की यह धर्म कार्य है सब लोग को आगे आकर बढ़चढ़कर लोग को ( मीठा सरबत ) उपलब्द कराया गया है ,इसे धर्म के कार्य को अध्यक्ष अरिहंत जैन,उपाध्यक्ष विमल खंडेलवाल,अनिरुद गोयनका,मनीष अग्रवाल,संजीव केजरीवाल,श्री खंडल विप्र सभा के अध्यक्ष मधुसुधन माटोलिया, हरी राम ,अश्वनी शर्मा,नरेंदर चोटिया,उमा शकर पीपलवा,समीर खण्डेलवाल,सुशिल खण्डेलवाल,सुमित खण्डेलवाल,दीपक डिडवानिया,नरेश डिडवानिया,शुभम माटोलिया,वे महिला ने भी बढ़चढ़कर हिसा लिया ,

loading...
SHARE THIS

0 comments: