Friday, June 2, 2017

गौंछी तहसील में व्याप्त समस्याओं के चलते लोगों को हो रही है परेशानियां


फरीदाबाद(abtaknews.com) प्रदेश की भाजपा सरकार एक तरफ जहां तहसील को कंप्यूटरीकृत करके लोगों को राहत देने का दावा करती है वहीं सेक्टर-55 स्थित गौंछी तहसील में व्याप्त समस्याओं के चलते यहां रजिस्टरी करवाने आने वाले लोगों को भारी असुविधा का सामना करना पड़ रहा है। तहसील में बिजली जाने के बाद न तो इंवर्टर की व्यवस्था है और न ही जनरेटर आदि है, जिसके चलते लोगों को अपने कामों के लिए घण्टों गर्मी में परेशान होना पडता है। मंगलवार व शुक्रवार को तहसील में कंप्यूटरों का नेटवर्क डॉऊन होने के चलते जहां लोगों को रजिस्ट्रियां नहीं हो पोई, जिसके चलते लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। तहसील कार्यालय में आने वाले लोगों के लिए न तो पीने के पानी की पर्याप्त सुविधा है और न ही बैठने की व्यवस्था है। गौरतलब है कि फरीदाबाद के बाद बल्लभगढ़ तहसील बनने के बाद लोगों के बढ़ती भीड के चलते प्रदेश सरकार द्वारा गौंछी में तहसील बनाई गई थी, जहां पर लोगों बल्लभगढ से सटे क्षेत्रों की रजिस्ट्री व अन्य कार्याे के लिए बल्लभगढ या फरीदाबाद न जाना पड़ें। गौँछी के तहसील बनने के बाद लोगों को यह उम्मीद जगी कि उनके जमीन जायदाद से संबंधी कार्य जल्दी होंगे परंतु तहसील बनने के बाद यहां सप्ताह में दो दिन मंगलवार व शुक्रवार को रजिस्ट्रियां होती है, परंतु पिछले काफी समय से नेटवर्क की परेशानी के चलते लोगों को रजिस्ट्रियां करवाने में भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, यहां दो दिन रजिस्ट्री के होते है, उन दो दिन भी सर्वेर न चलने के कारण वसीका नवीसों का धंधा पूरी तरह से चौपट हो गया है। वसीका नवीस एवं वरिष्ठ अधिवक्ता राजेश पांचाल का कहना है कि सर्वेर की परेशानी के चलते उनका कामधंधा पूरी तरह से चौपट हो चुका है और अक्सर यहां लोग आते है और नेटवर्क डाऊन होने की वजह से उनकी रजिस्ट्रियां नहीं हो पाती और नेटवर्क आने का इंतजार करते करते पूरा दिन बीत जाता है और लोग बिना रजिस्ट्री करवाए अपने घर लोट जाते है। उनका कहना था कि पिछले मंगलवार को भी नेटवर्क डाऊन होने की वजह से कोई रजिस्ट्री नहीं हो पाई और आज शुक्रवार को भी तहसील का नेटवर्क पूरी तरह से डाऊन रहा, जिसके चलते आज भी लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। उन्होनें कहा कि तहसील में न तो उनके बैठने की जगह है और न ही पीने के पानी की, जिसके चलते लोग यहां रजिस्ट्रियां व अन्य जमीनी जायदाद के कार्य करने से कतराने लगे है। उनका कहना है कि अगर प्रशासन ने तहसील में व्याप्त समस्याओं की इस जल्द ही कोई सार्थक कदम नहीं उठाया तो यहां मौजूद सभी वसीका नवीस जिला उपायुक्त कार्यालय पर प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: