Wednesday, June 14, 2017

फरीदाबाद शहर में इस बार नहीं रहेगी बरसाती जलभराव की समस्या, मुस्तैद हुए अधिकारी



फरीदाबाद, 14 जून,2017 (abtaknews.com ) शहर में बरसात के दिनों में जलभराव की समस्या से निपटने के लिए निगम के  अतिरिक्त आयुक्त पार्थ गुप्ता ने दूसरे दिन भीं बल्लबगढ़ की विभिन्न कालोनियों मोहना रोड, तिगांव रोड का दौरा किया। जहां पर निगम द्वारा नाले-नालियों की सफाई का काम चल रहा था। इसके साथ-साथ उन्होंने बल्लबगढ़ के अनेकों क्षेत्रों चंदावली व  तिगांव  डिस्पोजलों का भी निरीक्षण किया जो चालू और सही स्थिति में मिले। निरीक्षण के दौरान उनके साथ कार्यकारी अभियन्ता रमन कुमार, सहायक अभियन्ता राजपाल, जगवीर व कनिष्ठ अभियन्ता विपिन कुमार सहित अन्य कर्मचारीगण मौजूद थे।
   
अतिरिक्त आयुक्त ने सबसे पहले बल्लबगढ़ के मोहना रोड स्थित नाले-नालियों की सफाई कार्य का निरीक्षण किया जहां पर निगम द्वारा पौकलैंड मषीन और दो जेसीबी से नालें की सफाई का कार्य तेज गति से चल रहा  था। इसके उपरान्त उन्होंने तिगांव रोड पर बने नाले की सफाई के कार्य का भी निरीक्षण किया यहां पर उन्हें संतोषजनक काम मिला। उन्होंने मौके पर ही अधिकारियों को निर्देष देते हुए कहा कि 10 दिनों के अंदर-अंदर नगर निगम के प्रत्येक वार्ड के प्रमुख नालों व नालियों की सफाई कराना सुनिष्चित करें ताकि बारिष में क्षेत्र की जनता को किसी भी प्रकार की परेषानी का सामना न करना पड़े। अपने निरीक्षण के दौरान अतिरिक्त आयुक्त पार्थ गुप्ता ने तिगांव और चंदावली के डिस्पोजलों का भी निरीक्षण किया जो चालू हालत और सही स्थिति में मिले। उन्होंने अधिकारियों से  कहा कि बारिष के मददेनजर शहर में जलभराव संबंधी समस्या से निपटने के लिए और जनहित को देखते हुए डिस्पोजल व पानी निकासी के पंप, जनरेटर, मोटर उपकरण प्रतिदिन सही स्थिति और चालू हालत में इसी तरह से होने चाहिए ताकि बरसाती सीजन में जलभराव की समस्या का समाधान किया जा सके। किसी भी प्रकार की समस्या होती है तो निगम मुख्यालय में संपर्क कर सकते है। उन्होंने अधिकारियों को सफाई व्यवस्था में तेजी लाने और तुरंत मलवे को उठाने के भी निर्देष दिए।

 पार्थ गुप्ता ने कहा कि  बरसात से पहले-पहले निगम द्वारा शहर के प्रमुख नालों-नालियों की सफाई करवा दी जाएगी यह कार्य विभिन्न क्षेत्रों में चल रहे है। इसके अलावा 40 वार्डों में डिस्पोजलों को भी दुरूस्त करने का काम चल रहा है। इससे बरसात में जलभराव नहीं होगा।

loading...
SHARE THIS

0 comments: