Monday, June 26, 2017

फरीदाबाद-गुडग़ांव शहरी क्षेत्रों में वर्षा जल की निकासी को लेकर हुई बैठक


फरीदाबाद, 26 जून,2017(abtaknews.com ) मानसून सीजन को देखते हुए फरीदाबाद-गुडग़ांव शहरी क्षेत्रों में वर्षा जल की निकासी के पुख्ता प्रबंध और प्रमुख नाले-नालियों की प्रमुखता से साफ-सफाई को लेकर अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं वित्त आयुक्त-राजस्व और आपदा प्रबंधन की निर्देषक केषनी आनंद अरोड़ा की अध्यक्षता में 26 जून प्रात: 10 बजे गुडग़ांव में मीटिंग हुई। मीटिंग में हरियाणा सरकार के शहरी स्थानीय निकाय विभाग प्रधान सचिव आनंद मोहन शरण, गुडग़ांव मण्डलायुक्त डा. डी. सुरेष, फरीदाबाद-गुडग़ांव के जिला उपायुक्त एवं नगर निगम फरीदाबाद एवं गुडग़ांव के निगमायुक्त के अतिरिक्त दोनों शहरों के उच्चाधिकारीगण भी मौजूद थे। मीटिंग में मानसून के दौरान बरसाती पानी और सीवर लाईनों और नालियों के निर्बाध प्रवाह के तुरन्त निकासी सुनिष्चित करने के लिए फरीदाबाद-गुडग़ांव के उच्चाधिकारियों को अपने-अपने क्षेत्र में जलभराव संबंधी समस्याओं का तुरन्त निपटान सुनिष्चित करने के निर्देष दिए । उपरोक्त मीटिंग में वित्त आयुक्त-राजस्व एवं शहरी स्थानीय निकाय विभाग के प्रधान सचिव ने नेषनल हाइवे अथोरिर्टी  के अधिकारियों को निर्देष दिए कि वे अपने विभाग के जलभराव संबंधी कार्य 30 जून 2017 तक निपटाए। उन्होंने दोनों शहरों के उपस्थित अधिकारियों को बरसात से होने वाली आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए कारगर कदम उठाने और प्रभावित स्थानों पर तुरंत चेतावनी देने संबंधी तथा अपने-अपने क्षेत्रों में कंट्रोल रूम तुरंत स्थापित करने के लिए भी निर्देष दिए।
मीटिंग में फरीदाबाद नगर निगम की निगमायुक्त सोनल गोयल ने बताया कि मानसून की आहट के चलते ही फरीदाबाद नगर निगम ने जलभराव संबंधी समस्या के समाधान हेतू निगम के इंजीनियरों को बरसाती पानी की निकासी  के लिए तुरंत समाधान करने और डिवीजन स्तर पर जलभराव संबंधी स्थानों का निरीक्षण करने के निर्देष दे दिए गए है तथा इंजीनियिरिंग विभाग द्वारा उन स्थानों को चिन्हित भी किया गया है जहां पर जलभराव संबंधी समस्या रहती थी। ताकि इन समस्याओं का समय रहते ही बरसात से पहले-पहले निपटारा किया जा सके। उन्होंने बताया कि वर्तमान में सभी 27 डिस्पोजलों पर लगे सभी पंप, जनरेटर, मोटर उपकरण सही स्थिति में काम कर रहे है। बरसात के मौसम में सभी क्षेत्रों में जहां जलभराव की संभावना है वहां पर तुरंत कार्यवाही सुनिष्चित करने के लिए निर्देष दिए गए हैैैैैैैैैैैैैैैैैैै और जहां भी आवष्यक हो वहां जेनरेटर सेट उपलब्ध कराए गए हैं। उन्होंने बताया कि बरसाती मौसम में सडक़ों की मरम्मत के लिए गडढ़ों को भरने के लिए निगम द्वारा टीमों का भी गठन कर दिया गया है। आवष्यक स्थलों पर और प्रत्येक वार्ड में नालियों की सफाई के लिए सीवरमैनों/बेलदारों का एक-एक दल नियुक्त किया गया है जिनके पास ऐसी समस्या को दूर करने के लिए जरूरी उपकरण एवं सामान उपलब्ध करवाया गया है  जो बरसाती मौसम में तत्काल सफाई करेंगें जिससे की नालियों, सीवरलाईनों व अन्य स्थानों पर जलभराव की स्थिति पैदा न हों।  निगमायुक्त सोनल गोयल ने बताया कि नगर निगम के पांचों इंजीनियरिंग डिवीजन स्तर पर जलभराव संबंधी स्थान जैसे 60 फुट रोड, जवाहर कालोनी, 22 फुट सारन स्कूल रोड, नंगला रोड, बी.के0 चैक से नीलम नेहरू ग्राउंड, बाटा पेट्रोल पंप, नीलम चैक, आईटीआई रोड, अजरौंदा चैक, मेट्रो, ईएसआई चैक, दषहरा ग्राउंड, तिकोना पार्क, ग्रीन चैनल, सेक्टर-18 हाउसिंग बोर्ड कालोनी, सेक्टर-15 विद्या मंदिर रोड, सेक्टर-7 मार्किट रोड, सेक्टर-8 नजदीक हनुमान मंदिर, डिवीजन-4 में षिव कालोनी, तिगांव रोड, मोहना रोड, सेक्टर-22-24 की सडक़, 23-24 के नजदीक सोहना रोड, डिवीजन-5 स्थित पल्ला से सेहतपुर रोड, बडखल चैक से सेक्टर-28 टी प्वाइंट तक के स्थानों को चिन्हित किया गया और जेसीबी व अन्य जरूरी मषीनों द्वारा प्रमुख नाले-नालियों की सफाई करवाई गई और कार्यवाही आगे भी जारी रहेगी।  इसके अलावा निगमायुक्त ने बताया कि निगम द्वारा एनआईटी, ओल्ड और बल्लबगढ़ जोनों में एक-एक टीम का गठन किया गया है जिनके पास एक जेसीबी मषीन, सुपर शॉकर, ट्रैक्टर ट्राली और आवष्यक सामग्री उपलब्ध होगी ताकि वो बारिष के दौरान किसी भी समस्या का समाधान कर सकें। उन्होंने यह भी बताया कि बरसात के मौसम में उत्पन्न होने वाली आकस्मिक स्थिति को दूर करने के लिए तथा जलभराव संबंधी समस्या से बचने के लिए और सीवर लाईनों व नालों के प्रवाह को सुनिष्चित करने के लिए फरीदाबाद नगर निगम जल्द ही एक कंट्रोल रूम स्थापित करने जा रहा है जिसका नंबर-0129-2418225 और 129-2415549 होगा। कंट्रोल रूम का नेतृत्व कार्यकारी अभियन्ता मुख्यालय द्वारा किया जाएगा। जनता की षिकायत हेतू नियंत्रण कक्ष में षिकायत पुस्तिका भी रखी जाएगी जिसमें जनप्रतिनिधि अपने-अपने क्षेत्र में इन्हीं सभी जलभराव व सीवरेज/नालियां जाम संबंधी समस्याओं की षिकायत दर्ज कराएंगे और उक्त क्षेत्र के निगम के सहायक अभियन्ता और कनिष्ठ अभियन्ता मौके पर जाकर उक्त षिकायत का समाधान करेंगे। सभी कार्यकारी अभियन्ता, सहायक अभियन्ता, कनिष्ठ अभियन्ता दिन और रात के हर समय नियंत्रण कक्ष से कॉल प्राप्त करेंगे और अपने स्वयं के कार्यो की रिपोर्ट भी प्रतिदिन निगम मुख्यालय में देंगे। निगमायुक्त सोनल गोयल ने बताया कि राष्ट्रीय मार्गों के साथ-साथ नगर निगम कार्यालय बस स्टैंड, 100 फुट रोड चावला कालोनी, सोहना रोड के दोनों साईड़ों, बाटा फ्लाईओवर के आसपास की साईड़ों, वाईएमसीए चैक, अजरौंदा चैक के दोनों तरफ जलभराव संबंधी समस्या को दूर करने के लिए एनएचएआई द्वारा कार्यवाही की जा रही है। सामान्य बस स्टैंड, एमसीएफ कार्यालय, बल्लबगढ़, 100 फुट रोड के दोनों तरफ आदि स्थानों पर जलभराव की स्थिति से निपटने के लिए वहां पर पाईप लाईन बिछाई गई है जिसके द्वारा इन स्थानों से पानी की निकासी पंचायत भवन/अस्पताल रोड के पास स्ट्रोम वॉटर ड्रैनेज सिस्टम द्वारा गुडग़ांव नहर में की जाएगी। उन्होंने बताया कि ओल्ड फरीदाबाद के रेलवे अंडरपास और एनएचपीसी चैक रेलवे अंडरपास  में काफी पानी जमा हो जाता है। हालांकि ये दोनों अंडरपास हुडा से संबंधित है परन्तु नगर निगम द्वारा भी अतिरिक्त पंप स्थापित किए जाएंगे  ताकि इन स्थानों से बरसाती पानी का निपटान तुरन्त हो सकें।

loading...
SHARE THIS

0 comments: