Sunday, June 11, 2017

बीजेपी का पर्चा पूरी तरह खाली है एक भी नंंबर नहीं हैं,अब नेगेटिव मार्किंग शुरू : भूपेन्द्र हुड्डा


फरीदाबाद-11 जून,2017(abtaknews.com) प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने राज्य सरकार के ढाई साल के कार्यकाल को नेगेटिव मार्क देते हुए आज सरकार मार्किंग के हिसाब से तो माईनस में जा रही है। हालात इतने खराब है कि देश का किसान जहां अपनी छाती पर गोली खा रहा है वहीं व्यापारी को मुनाफा तो दूर वह अपनी पूंजी को ही खा रहा है। इससे ज्यादा शर्म की और क्या बात होगी कि प्रदेश के मुख्यमंत्री के कुक भी आज धरने पर बैठे है। श्री हुड्डा आज यहां पल्ला पुल के समीप तिगांव विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक ललित नागर के संयोजन में क्षेत्र की कालोनियों में सरकार द्वारा बरती जा रही भेदभावपूर्ण नीति के विरोध में आयोजित विशाल धरने को बतौर मुख्यातिथि संबोधित कर रहे थे। धरने में विधानसभा के पूर्व स्पीकर व गन्नौर के विधायक कुलदीप शर्मा, होडल के विधायक उदयभान, पूर्व मंत्री पं. शिवचरण लाल शर्मा, पूर्व मंत्री आफताब अहमद, पूर्व मुख्य संसदीय सचिव सुश्री शारदा राठौर, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता यशपाल नागर, वैश्य नेता लखन कुमार सिंगला, पूर्व चेयरमैन अब्दुल गफ्फार कुरैशी आदि मुख्य रुप से मौजूद थे।

धरने में तिगांव क्षेत्र की चौरासी पाल के लोगों के साथ-साथ क्षेत्र की दर्जनों कालोनियों के हजारों की तादाद में लोग मौजूद थे। 47 डिग्री के तापमान के बावजूद भी लोगों का जोश देखते ही बनता था तथा उन्होंने गर्मजोशी के साथ श्री हुड्डा का जहां जोरदार स्वागत किया वहीं दोनों हाथ उठाकर विधायक ललित नागर को अपना पूर्ण आर्शीवाद देते हुए भविष्य में भी उनके संघर्ष में इसी तरह से साथ निभाने का संकल्प लिया। लोगों के जोश व समर्थन से गद्गद् पूर्व मुख्यमंत्री श्री हुड्डा ने राज्य की भाजपा सरकार पर जमकर वार करते हुए कहा कि सन् 1966 में हरियाणा निर्माण से लेकर अक्तूबर, 2014 तक हरियाणा सरकार पर कुल 71 हजार करोड़ का कर्ज था, जबकि मौजूदा भाजपा सरकार ने मात्र ढाई साल में इसे बढ़ाकर 1.5 लाख करोड़ तक पहुंचा दिया है, जिससे सरकार की अनुभवहीनता का सहज ही पता लगाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पूर्व में चौटाला व भाजपा के शासन में यहां के लोग फरीदाबाद को फकीराबाद बनाने की बात कहते थे, लेकिन उन्होंने मुख्यमंत्री बनने के बाद फरीदाबाद को फिर से उसका पुराना स्वरुप लौटाते हुए उसे देश के मानचित्र पर चमकाने का काम किया। उन्होंने मंच से विधायक ललित नागर की पीठ थपथपाते हुए कहा कि पिछले ढाई साल के दौरान ललित नागर ने सरकार की नाकामियों को उठाते हुए जनता आवाज बनने का काम किया है, इससे सही मायने में वह एक सच्चे जननेता बने है। उन्होंने कहा कि ललित नागर विपक्ष में रहकर जनता के समक्ष जो भी वायदे कर रहे है, उन सभी वायदों को कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पूरा किया जाएगा। इस अवसर पर धरने के आयोजक विधायक ललित नागर ने धरने में आए क्षेत्र की विभिन्न कालोनियों के कोने-कोने से आए भारी संख्या में लोगों का दिल की गहराईयों से आभार व्यक्त करते हुए अपने ढाई साल के विधायक काल का लेखा-जोखा प्रस्तुत करते हुए कहा कि उन्होंने विपक्ष में रहते हुए एक लायक बेटे की तरह क्षेत्र की छत्तीस बिरादरी की सेवा करने में कोई कोर कसर बाकि नहीं छोडी है तथा जब-जब भी सरकार द्वारा क्षेत्र के गांवों व कालोनियों के विकास के मामले में भेदभावपूर्ण नीति अपनाने का काम किया है, तब-तब उन्होंने सडक़ से लेकर विधानसभा तक क्षेत्र की आवाज उठाने का काम किया है। उन्होंने क्षेत्र की उपेक्षा बरते जाने पर स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर पर भी जमकर वार करते हुए कहा कि तिगांव क्षेत्र की बदहाली का कारण आज केवल मात्र कृष्णपाल गुर्जर है। उन्होंने कहा कि एक ओर तो भाजपा सरकार सबका साथ-सबका विकास की बात करती है, जबकि तिगांव क्षेत्र आज विकास के नाम पर एक ईट तक नहीं लगाई गई है और न ही उन्हें विकास के लिए एक रुपए की भी ग्रांट नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि ढाई साल में तिगांव विधानसभा क्षेत्र का चाहे गांव हो या कोई कालोनी विकास से पूर्ण रुप से अछूता है और लोग अपनी मूलभूत सुविधाओं के लिए त्राहि-त्राहि कर रहे है। उन्होंने कहा कि इसी क्षेत्र ने श्री गुर्जर को तीन बार विधायक और अब मौजूदा सांसद बनाया है, लेकिन इस बार ललित नागर के रुप में विपक्ष का विधायक बनने पर ललित नागर की ऐंठ निकालने की बात सार्वजनिक तौर पर कहते है, लेकिन वह असलियत में ललित नागर का अपमान नहीं बल्कि तिगांव विधानसभा क्षेत्र के चौरासीपाल व छत्तीस बिरादरी का अपमान कर रहे है, जिसका खमियाजा समय में आगामी लोकसभा चुनाव में भुगतना पड़ेगा। उन्होंने लोगों को विश्वास दिलाया कि घबराने की आवश्यकता नहीं, वह उनके सुख-दुख में हमेशा उनके साथ खड़े है तथा आने वाले दो साल के बाद प्रदेश में कांग्रेस की सरकार होगी और आपका यह तिगांव विधानसभा क्षेत्र विकास के मामले में हरियाणा के मानचित्र पर प्रथम पंक्ति में खड़ा दिखाई देगा।  धरने को संबोधित करते हुए विधानसभा के पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा ने तिगांव विधानसभा क्षेत्र में सरकार द्वारा बरती जा रही उपेक्षा का ठीकरा केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर पर फोडते हुए कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर अपने गृह क्षेत्र करनाल को छोडक़र गुडग़ांव में अपनी राजनैतिक जमीन तलाश रहे है वहीं केंद्रीय राज्यमंत्री कृष्णपाल गुर्जर हार के डर से उत्तरप्रदेश में किसी सुरक्षित सीट की तलाश कर रहे है। ऐसे में वह तिगांव क्षेत्र का विकास क्यों कराएंगे। वहीं होडल के कांग्रेसी विधायक उदयभान ने भाजपा सरकार के खिलाफ जमकर जहर उगलते हुए कहा कि सरकार पूर्ण रुप से फेल साबित हुई है, चुनाव पूर्व किए गए 156 वायदे को पूरा करने के लिए जनता बाट जोह रही है। इस अवसर पर  पिंटू सरपंच, सुखराज प्रधान, देवेन्द्र तोंगड़, सुंदर नेता जी, विक्की चोपड़ा, सतपाल चौधरी, लाल बाबु, एम0 एस0 असवाल, छज्जू पंडित, महेश नागर, कांग्रेसी नेता युद्धवीर झा, एडवोकेट राजेश खटाना, विकास वर्मा नंबरदार, अनिल चेची, गुलशन बगगा, राजेंद्र भामला, जगन डागर, योगेश ढींगडा, बिजेंद्र मावी, सुनील भाटी चेयरमैन, सूरजपाल भूरा, नितिन सिंगला, मन्नू गिरी, पिंटू पंडित, जय प्रकाश रावत, साबू राम, राम किशन तंवर, विजेंद्र शर्मा, मनोज नागर सहित विभिन्न कालोनियों से आए सैकड़ों गणमान्य लोग मौजूद थे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: