Tuesday, June 13, 2017

नाट्य एवं कला महोत्सव का आज दुसरा दिन


फरीदाबाद (abtaknews.com ) 13 जून,2017 ; हरियाणा कला परिषद व ब्रज  नट मंडली द्वारा किए जा रहे नाट्य एवं कला महोत्सव के दूसरे दिन सुप्रसिद्ध कलाकार तोहफ़ा व गयूर की पार्टी द्वारा हुड्डा कन्वेन्शन हाल सेक्टर 12 में किया गया! सांग में पूरणमल कि कहानी को सुनाया गया! स्यालकोट के राजा सलेभांन जिनकी दो रानी थी इस्सरा देवी ओर नूणा देवी, इन दोनो ही रानिओ से राजा को कोई संतान नहीं थी फिर एक दिन गुरु गोरखनाथ के वरदान से इस्सरा देवी को पुत्र की प्राप्ति हुई, जिसका नाम पूरणमल रखा गया! पूरणमल इतना सुंदर था कि कहा जाता था की अगर उसे घर से बाहर रखा गया तो इन्द्र की अप्सराएँ उसे उठा कर ले जाएगी इसलिये राजा ने उसे बोहरे में डलवा दिया! 12 वर्ष की आयु के बाद राजा सलेभांन ने पूरणमल को बोहरे से बाहर निकलवाया! बोहरे से बाहर आने के बाद सलेभांन ने पूरणमल से की कहा देश विदेश से तुम्हारी शादी के 360 रिश्ते आये हुए है तुम चाहो जिस से भी शादी कर सकते हो लेकिन पूरणमल ने आजीवन शादी ना करने का फ़ैसला अपने पिता सलेभांन को सुनाया! राजा सलेभांन ने पूरणमल का यह फ़ैसला सुनकर पूरणमल को उसकी छोटी माँ नुन्ना देवी के पास मिलने के लियें भेजा! नून्ना देवी ने जब पूरणमल को देखा तो वह पूरणमल के रूप पर मोहित हो गयी ओर माँ बेटे के रिश्ते को भूल उससे इश्क़ के लिए अपने पास बुलाया लेकिन पूरणमल ने इंकार कर दिया ओर वहाँ से चला गया लेकिन उसका रुमाल रानी के कक्ष में रह गया जिसका रानी ने ग़लत इस्तेमाल कर उसे राजा के समक्ष यह कह कर रखती है की पूरणमल ने उससे ज़बरदस्ती की कोशिश की ओर वहाँ वह अपना रुमाल छोड़ आया! राजा नून्ना देवी की बात पर विश्वास कर पूरणमल को जल्लादों के हवाले कर देते है!
इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में श्री भरत भूषण शर्मा ओर हरियाणा कला परिषद के महेश जोशी वरिष्ठ सलाहकार व ब्रज नट मंडली के अध्यक्ष श्री ब्रज मोहन भारद्वाज जी उपस्थित रहे

loading...
SHARE THIS

0 comments: