Tuesday, June 20, 2017

मैराथन दौड़ में लिया चार हजार लोगों ने भाग,अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस की तैयारी पूरी


फरीदाबाद, 20 जून,2017(abtaknews.com)अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रमों के क्रम में मंगलवार को फरीदाबाद के सैक्टर-12 स्थित राज्य खेल परिसर से मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया। इसमें स्कूली बच्चे, अधिकारियों व कर्मचारियों तथा आम नागरिकों समेत लगभग चार हजार से अधिक प्रतिभागियों ने दौड़ लगाई। लगभग साढ़े तीन किलोमीटर लम्बी इस दौड़  को उपायुक्त समीरपाल सरो ने झण्डी दिखाकर रवाना किया। हरियाणा भूमि विकास सुधार बोर्ड के चेयरमैन अजय गौड़ अतिरिक्त उपायुक्त जितेन्द्र दहिया, नगराधीश सतबीर मान, एसडीएम बल्लबगढ़ अमरदीप जैन, अधीक्षण अभियन्ता सतपाल दहिया, जिला आयुष अधिकारी इमरतजीत सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी मनोज कौशिक समेत अनेक वरिष्ठ अधिकारियों ने दौड़ लगाई। 
उपायुक्त समीरपाल सरो ने सवेरे खेल परिसर से मैराथन दौड़ को रवाना करते हुए कहा कि योग हमें जीने की कला सीखाते हैं। योग हमारी प्राचीन पद्धति है। योग से हम अपने शरीर को भी विभिन्न व्याधियों से मुक्त रख सकते हैं। आज इस दौड़ में लगभग दो हजार स्कूली बच्चे भाग ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि जन साधारण को योग के महत्व का संदेश देने के लिए इस प्रकार का आयोजन किया गया है। भावी पीढ़ियों को योग के प्रति सचेत रहने की पे्ररणा इस प्रकार के कार्यक्रमों से मिलती है।मैराथन में साढ़े तीन किलोमीटर तक दौड़े प्रतिभागीः- मंगलवार को हुई मैराथन दौड़ में प्रतिभागियों ने लगभग साढ़े तीन किलोमीटर की दौड़ लगाई। दो हजार से अधिक अधिकारियों, कर्मचारियों व आम नागरिकों ने इसमें हिस्सा लिया। स्कूली बच्चों की भागीदारी सराहनीय रही। 
सड़कों पर सुरक्षा के रहे पुख्ता प्रबन्धः- मैराथन दौड़ के दौरान जिधर से प्रतिभागियों को गुजरना था वहां पर पुलिस के पर्याप्त कर्मियों की तैनाती की गई थी। नाके व मोड़ों पर पुलिस कर्मी मुस्तैद रहे। वाहनों को डाइवर्ट कर दिया गया था। बनाए गए तीन पार्किंग स्थल:- सुरक्षा की दृष्टि से एवं वाहनों की आवाजाही को सुगम बनाए रखने के लिए पुलिस प्रशासन द्वारा तीन पार्किंग स्थल बनाए गए। मुख्य पार्किंग खेल परिसर के सामने खाली जगह में बनाई गई। दूसरी पार्किंग सैन्ट्रल थाना के पीछे तथा तीसरी पार्किंग इंडियन आॅयल कम्पनी क सामने बनाई गई। इन्हीं स्थानों पर वाहनों को खड़ा करने की अनुमति दी गई। 
अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम में उद्योग मंत्री होंगे मुख्य अतिथिः- 21 जून को स्थानीय खेल परिसर में आयोजित होने वाले कार्यक्रम में हरियाणा के उद्योग एवं पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल मुख्य अतिथि होंगे। इनके साथ फरीदाबाद शहर के अनेक गणमान्य व्यक्ति, अधिकारी व आमजन योग अभ्यास करेंगे। कार्यक्रम प्रातः 7 बजे शुरू हो जायेगा। पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों को विशेष रूप से जिला प्रशासन की तरफ से निमंत्रण भेजा गया है। वहीं मीडिया के लोगों को भी इस कार्यक्रम में पहुंचने सम्बन्धी सूचना भेजी गई है। 
योगाभ्यास के लिए खेल परिसर को बांटा गया है 12 जोनों मेंः- उपायुक्त के निर्देशानुसार अन्तर्राष्ट्रीय योग कार्यक्रम में पहुंचने वाले किसी भी प्रतिभागी को असुविधा नहीं होने दी जायेगी। इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। आयोजन स्थल को अलग-अलग जोनों में बांटकर योगाभ्यास सुगमता से करने की सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। स्कूली छात्राओं तथा विद्यार्थियों के लिए अलग से सैक्टर आरक्षित किए गए हैं। मुख्य मंच के सामने वीआईपी सैक्टर बनाया गया है। जहां पर सभी अधिकारी व गणमान्य अतिथि बैठकर योग का अभ्यास करेंगे। इसी प्रकार एनसीसी, एनएसएस, आयुष व खेल विभाग, व महिलाओं के लिए अलग-अलग सैक्टर निर्धारित किए गए हैं। पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों के लिए अलग से सैक्टर बनाया गया है। इसी प्रकार पतंजलि योग समिति के प्रतिनिधियों के लिए सैक्टर आरक्षित है। 
वालिंटियर्स की रहेगी विशेष डयूटीः- कार्यक्रम के दौरान जन साधारण को सुविधा उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से जिला प्रशासन द्वारा एनएसएस, नेहरू युवा केन्द्र, पतंजलि योग समिति के प्रतिनिधियों को वालिंटियर का काम दिया गया है। खेल परिसर में पीने के पानी व स्वच्छता बनाए रखने पर रहेगा फोकसः- उपायुक्त समीरपाल सरो के निर्देशों के अनुसार खेल परिसर में पीने के पानी की समुचित व्यवस्था को सुनिश्चित किया जा रहा है। खाली पानी की बोतलें व अन्य कचरे के प्रबन्धन के लिए पर्याप्त संख्या में डस्टबीन उपलब्ध रहेंगे। परिसर में अस्थायी शौचालयों की भी व्यवस्था रहेगी। 
उपायुक्त समीरपाल सरो ने जनसाधारण से अपील की है कि वे 21 जून को मनाए जाने वाले अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए सवेरे 7 बजे स्थानीय खेल परिसर में पहुंचे। आधुनिकता की इस दौड़ में हमें अपने स्वास्थ्य के प्रति गम्भीर रहने की आवश्कता है। हम 21 जून को तीसरा अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस मना रहे हैं। भारत के ऋषि-मुनियों द्वारा शरीर को निरोग रखने की इस विधा को अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिली है। यह हम सबके लिए गौरव का विषय है।

loading...
SHARE THIS

0 comments: