Saturday, June 10, 2017

छठ मेले मे हो रहा है सांस्कृतिक नृत्य के नाम पर अशलील डांस, महिला दर्शक होती है शर्मसार


फरीदाबाद-10 जून (abtaknews.com ) बल्लभगढ के दशहरा मैदान में चल रहे छठ मेले में पश्चिमी संस्कृति को झकझोरने वाले सांस्कृतिक नृत्य के नाम पर अश£ील डांस पेश किया जा रहा है। बल्लभगढ में ये छठ मेला हर साल लगाया जाता है जिसमें पश्चिमी संस्कृति की आस्था से जुडे हजारों लोग आते हैं और अपने बच्चों को अपनी संस्कृति के बारे में बताते और दिखाते हैं मगर मेले में हो रहा अश£ील डांस सभी की भावनाओं को ठेस पहुंचा रहा है। मेले में आने वाले लोग शर्म से पानी पानी हो रहे हैं और सरकार से अपील कर रहे हैं कि मेलों में वो अपने बच्चों को लेकर आते हैं जिसका उनपर बहुत बुरा प्रभाव पडता है इसलिये सांस्कृतिक नृत्य के नाम पर होने वाले अश्लील डांसों को बंद करना चाहिये। 
नाम बडे और दर्शन छोटे वाली कहावत को इन दिनों बल्लभगढ में सांस्कृतिक नृत्य कला मंच के नाम हो रहा अश£ील डांस सार्थक कर रहा है, बल्लभगढ के दशहरा मैदान में छठ मेला चल रहा है जिसमें कुछ युवतियां अश£ील डांस पेश कर रही है जिसके बाहर बडे से बोर्ड पर सांस्कृतिक नृत्य कला मंच लिखा हुआ है। जिससे मेले में आने वाले हजारों लोगों का भावनाओं को ठेस पहुंच रही है। हर साल लगने वाला छठ का मेला यहां के लोगों के लिए अपने बच्चों को संस्कृति से रूबरू करवाले और एक मनोरंजन का साधन है, मगर इस मेले में उन्हें अपने बच्चो के सामने पानी - पानी होना पड रहा है। क्योंकि मेला परिसर में युवतियां छोटे - छोटे कपडे पहन कर अश£ील ठुमके लगा रही है। 
पश्चिमी सभ्यता से जुडे मेले में आये लोगों ने मीडिया को दी जानकारी में कहा कि मेले में अशलीलता परोसी जा रही है जिससे उनकी संस्कृति और साथ में आने वाले बच्चों पर बुरा प्रभाव पड रहा है। लेकिन प्रशासन का ध्यान इस तरफ बिल्कुल नहीं है। महिलाओं की मांग है कि मेले में इस तरह के अश£ील डांस बंद होने चाहिये। वहीं जब इस बारे में मेले के आयोजकों से संपर्क करना चाहा तो उन्होंने भी इस बारे में कुछ भी कहने से मना कर दिया।

loading...
SHARE THIS

0 comments: