Wednesday, June 28, 2017

‘किसान पंचायत’ की तैयारियों को लेकर कांग्रेसियों की बैठक हुई सम्पन्न

congress-party-meeting-for-preparation-of-kisan-panchayat-faridabad

फरीदाबाद 28 जून(abtaknews.com ) पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के संयोजन में आगामी 5 जुलाई को नूंह स्थित अनाज मण्डी में आयोजित होने वाली ‘किसान पंचायत’ को सफल बनाने को लेकर फरीदाबाद में कांग्रेसियों ने भी अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इसी कड़ी में आज सेक्टर-16 स्थित सर्किट हाऊस में तिगांव विधानसभा क्षेत्र के कांग्रेसी विधायक ललित नागर की अध्यक्षता में एक बैठक का आयोजन करके पार्टी नेताओं को उक्त किसान पंचायत में ज्यादा से ज्यादा लोग ले जाने की जिम्मेदारी सौंपी गई। बैठक में विधायक उदयभान व करण दलाल बतौर आब्र्जवर मौजूद थे, जबकि बैठक में पूर्व मंत्री शिवचरण लाल शर्मा, पूर्व मुख्य संसदीय सचिव कुमारी शारदा राठौर, पूर्व विधायक रघुबीर तेवतिया, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता लखन सिंगला, विवेक प्रताप, पूर्व चेयरमैन अब्दुल गफ्फार कुरैशी, गुलशन बगगा, जगन डागर, डालचंद डागर, पूर्व वरिष्ठ उपमहापौर मुकेश शर्मा, राजेंद्र भामला, योगेश ढींगड़ा, सूरजपाल भूरा आदि मुख्य रुप से मौजूद थे। बैठक को संबोधित करते कांग्रेसियों ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने प्रदेश के कोने-कोने में किसान पंचायतों का आयोजन करके सही समय पर सही फैसला लिया है क्योंकि आज प्रदेश भर में किसान अपनी दुर्दशा पर आंसू बहाने पर मजबूर है। भाजपा सरकार में किसान अपने हक-हकूक की लड़ाई के लिए सडक़ों पर आंदोलनरत है, लेकिन सरकार गहरी नींद में सोई हुई है। चुनाव पूर्ण स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू कर किसान को लागत से चार गुना आर्थिक लाभ पहुंचाने का वायदा करने वाली भाजपा आज सत्तासीन होने के बाद किसानों से मुंह चुरा रही है। कांग्रेसियों ने कहा कि प्रदेश के कृषि मंत्री के पास विदेशों में सैर-सपाटा करने का तो वक्त है, लेकिन किसानों की समस्याएं सुनकर उन्हें सरकार से लागू करवाने के लिए उनके पास वक्त नहीं है। बैठक में भाजपा को पूर्ण रुप से किसान विरोधी करार देते हुए कांग्रेसियों ने कहा कि हरियाणा ही नहीं बल्कि समूचे देश का किसान आज अपने आपको ठगा सा महसूस कर रहा है, अगर यही हालात रहे तो मध्यप्रदेश की तर्ज पर हरियाणा का किसान भी आत्महत्या करने को मजबूर होगा। रेवाड़ी में आयोजित किसान पंचायत की सफलता से पूरे प्रदेश का किसान आज एकमत से पूर्व मुख्यमंत्री श्री हुड्डा के पक्ष में लामबंद होता नजर आ रहा है। उन्होंने दावा किया कि रेवाड़ी की तर्ज पर ही नूंह की किसान पंचायत भी ऐतिहासिक पंचायत होगी, जिसमें फरीदाबाद से भी हजारों की संख्या में किसानों की भागेदारी होगी तथा किसान एकमत से हुड्डा के सुर में सुर मिलाते हुए प्रदेश की भाजपा सरकार के विरोध में संघर्ष का बिगुल फूंकेंगे।

loading...
SHARE THIS

0 comments: