Saturday, June 17, 2017

रिहायशी क्षेत्र में अवैध गेट बनाने के लिए हो रही है हरे-भरे पेड़ों की कटाई : सुमित गौड़


फरीदाबाद 17 जून,2017(abtaknews.com) एक तरफ तो पर्यावरण के प्रति लोगों को जागरुक करने के लिए सरकार लाखों-करोड़ों रुपए खर्च कर रही है, जबकि दूसरी ओर हरियाणा सरकार के अधीन आने वाले मैगपाई टूरिज्म काम्पलैक्स में बार के लिए रिहायशी क्षेत्र में अवैध रूप से गेट बनाने की कवायद शुरू कर दी गई है। इसको लेकर विभाग द्वारा जहां हरे-भरे पेड़ों को काटा जा रहा है वहीं स्थानीय लोगों से भी किसी प्रकार की कोई अनुमति नहीं ली गई है, जिससे उनमें रोष व्याप्त है। टूरिज्म विभाग के इस कदम पर स्थानीय लोगों ने विरोध जताते हुए प्रशासन से उक्त गेट को न बनाने की मांग की है। लोगों का कहना है कि रिहायशी क्षेत्र में बार का अवैध गेट बनने से जहां असामाजिक तत्वों की आवाजाही रहेगी वहीं देर रात्रि तक यहां हुडदंग भी मचा करेगा, जिससे उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। लोगों ने विभाग को चेतावनी दी है कि अगर यह गेट बनाया गया तो वह धरने प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे। गौरतलब है कि कुछ समय पहले अदालत ने आदेश जारी किए थे कि हाईवे से 500 मीटर के दायरे में कोई भी बार नहीं चलेंगे। उन्हीं आदेशों को ठेंगा दिखाते हुए मैगपाई टूरिज्म अधिकारियों ने हाईवे की तरफ से बार की एंट्री बंद करके सेक्टर-16ए रिहायशी घरों के ठीक सामने गेट बनाना शुरू कर दिया है, इसके लिए विभाग सभी कायदे-कानूनों को ताकत पर रखकर हरे-भरे वृक्ष भी काट रहा है। स्थानीय लोगों ने जब इस बात की जानकारी हरियाणा प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सचिव सुमित गौड़ को दी तो वह तुरंत मौके पर पहुंचे और टूरिज्म विभाग के अधिकारियों को चेताया कि अगर उन्होंने उक्त अवैध गेट को बंद नहीं किया तो वह स्थानीय लोगों के साथ मिलकर हरसंभव लड़ाई लड़ेंगे। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही इस मुद्दे पर एक लिखित शिकायत टूरिज्म विभाग के आला अधिकारियों को भेजकर उन्हें वास्तुस्थिति से अवगत करवाएंगे। इस मौके पर चंद्रास पाण्डे, श्रीमती ए.के. जैन, ओ.पी. अरोड़ा, मयंक जैन, मुकेश गुप्ता, संदीप वशिष्ठ, अर्जुन सिंह आदि मुख्य रुप से मौजूद थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: