Wednesday, June 21, 2017

अध्यात्म से उपचार की भारतीय विरासत है योग : विपुल गोयल


फरीदाबाद 21 जून,2017(abtaknews.com ) भारत वर्ष के ऋषि-मुनियों की प्राचीन पहचान योग अध्यात्म से उपचार की एक ऐसी भारतीय विरासत है जिसे आज पूरी दुनिया चमत्कार मान कर विश्व गुरू भारत को नमस्कार कर रही है और आज स्वच्छ, स्वस्थ एवं सुरक्षित दुनिया के लिए योग को बढ़ावा देने तथा पर्यावरण को सुरक्षित रखने की परम आवश्यकता है।  यह उद्गार हरियाणा के उद्योग एवं पर्यावरण मंत्री विपुल गोयल ने आज यहां स्थानीय सैक्टर-12 स्थित हरियाणा राज्य खेल परिसर में आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के जिलास्तरीय योग शिविर एवं समारोह को बतौर मुख्य अतिथि सम्बोधित करते हुए प्रकट किए। उन्होंने दीपशिखा प्रज्जवलित करके योग शिविर का शुभारम्भ किया। इस मौके पर उपायुक्त समीरपाल सरो, पुलिस आयुक्त डा. हनीफ कुरैशी, नगर निगमायुक्त सोनल गोयल, भाजपा प्रदेश महामंत्री संदीप जोशी, भाजपा जिलाध्यक्ष एडवोकेट गोपाल शर्मा तथा नगर निगम के उप महापौर मनमोहन गर्ग प्रमुख रूप से उपस्थित थे। सुबह लगभग 05:00 बजे अचानक हुई बारिश के बावजूद जिला प्रशासन की ओर से किए गए बेहतर उपायों के चलते इस मौके पर कुल लगभग चार हजार लोगों ने एक साथ योग किया जिनमें विभिन्न विभागों के अधिकारी, कर्मचारी फरीदाबाद के आम नागरिक और स्कूली बच्चे शामिल थे। पतंजलि योग समिति के आचार्य हरीदर्शन द्वारा मुख्य मंच से दिए गए योगासन के निर्देशों का अनुसरण करते हुए प्रतिभागियों ने लगभग एक घंटे तक योग किया। उद्योग मंत्री विपुल गोयल ने कहा कि प्राणायाम सहित सभी प्रकार की योग क्रियाओं के लिए शुद्ध वातावरण और प्राण रूपी वायु आक्सीजन की जरूरत है। इस लिए हम सभी को मिल कर अधिक से अधिक पौधे लगाने चाहिए। प्रत्येक व्यक्ति कम से कम एक पौधा अवश्य लगाए और उसकी सुरक्षा व पालन-पोषण बच्चे के पालन-पोषण की तर्ज पर ही करे। श्री गोयल ने पूरे विश्व में योग को ख्याति दिलवाने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और योग ऋषि बाबा रामदेव द्वारा किए गए अनूठे प्रयासों की तारीफ की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के प्रयास से ही संयुक्त राष्ट्र संघ (यूएनओ) में 21 जून को अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में मान्यता देने के साथ दुनिया ने भारत को योग गुरू का दर्जा दिया है।

उन्होंने कहा कि योग किसी एक धर्म से नहीं जुड़ा बल्कि स्वास्थ्य व अध्यात्म से जुड़ा है और स्वस्थ जीवन जीने के लिए चमत्कार है। भारत की इस महान विरासत को संजोकर आगे बढ़ाने के लिए हरियाणा सरकार ने सभी शहरों व गांवों में योगशालाओं के निर्माण का संकल्प लिया है। योग दिवस केवल एक दिन का ही नहीं बल्कि हम सभी की रोजाना की दिनचर्या का हिस्सा होना चाहिए। विपुल गोयल ने लोगों से एक ऐसे फरीदाबाद का निर्माण करने का आह्वान किया जिसकी हर सुबह में शुद्ध हवा और पक्षियों के कुदरती संगीत के बीच स्वस्थ जीवन के लिए योग के साथ दिन की शुरूआत हो। 
उपायुक्त समीरपाल सरो ने मुख्य अतिथि उद्योग मंत्री विपुल गोयल का स्वागत प्रकट करते हुए कहा कि योग से शरीर को स्वस्थ रखने के साथ-साथ व्यक्ति मन, वचन और कर्म से भी श्रेष्ठ हो जाता है। उन्होंने कहा कि आज कल तेज रफ्तार से दौड़ती जिन्दगी में बीमारियों से बचने के लिए योग रामबाण की तरह है।इस मौके पर अतिरिक्त उपायुक्त एवं फरीदाबाद के एसडीएम जितेन्द्र दहिया, नराधीश सतबीर मान, बल्लबगढ़ के एसडीएम अमरदीप जैन, नगर निगम के मुख्य अभियन्ता डी.आर. भास्कर, डीसीपी आस्था मोदी व भूपेन्द्र सिंह, हुडा के अधीक्षण अभियन्ता सतपाल दहिया, जिला आयुष अधिकारी डा. इमरतजीत चैधरी, जिला शिक्षा अधिकारी डा. मनोज कौशिक, जिला खेल एवं युवा कार्यक्रम अधिकारी मैरी मसीह, जिला रैडक्रास सोसायटी के सचिव बी.बी. कथूरिया तथा शिक्षाविद एवं प्रेरक डा. एम.पी. सिंह सहित अनेक अधिकारियों, गणमान्य व्यक्तियों व योग प्रेमियों ने योगासन किए। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: