Monday, June 26, 2017

खंदावली गांव में तनाव बरकऱार, काली पट्टी बांधकर मनाई ईद

Black-Eid-celebrate-in-khandawli-village-faridabad-haryana

फरीदाबाद (abtaknews.com) 26 जून,2017 ; दिल्ली से मथुरा जा रही लोकल शटल में हुई चाकूबाजी के बाद हत्या का मामला अभी शांत नहीं हुआ है। फरीदाबाद के गांव खंदावली में आज ईद के त्यौहार पर हजारों ग्रामीणों ने काली पट्टी बांधकर नमाज अता की, जिसमें एक ओर अपनी रस्म अदायगी थी तो दूसरी ओर सरकार व प्रशासन के खिलाफ विरोध। परिजनों और  ग्रामीणों का कहना है कि नमाज अता करना जरूरी होता है लेकिन उनका जो दुख है वह कम नहीं हो पाया है। क्योंकि आरोपी अभी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं।

हाथों में काली पट्टी बांधकर नमाज अता करते हुए हजारों लोगों का यह दृश्य आपने पहली बार देखा होगा, ये नजारा है बल्लभगढ़ के गांव खंदावली का। जिन्होंने ईद की रस्म अदायगी के साथ - साथ  विरोध जताया है। जहां रहने वाले जुनैद नामक युवक को अज्ञात लोगों ने चलती ट्रेन में चाकू से गोदकर मौत के घाट उतार दिया था। हादसे में जुनैद के साथ दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे, जो आज भी दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच झूल रहे हैं नमाज के दौरान अस्पताल में भर्ती युवकों की सलामत के लिए गांव के लोगों ने दुआएं मांगी। काली पट्टी बांधकर नमाज अता करने के बाद बाहर आए जावेद की माने तो जुनैद की मौत के बाद पूरे गांव में शोक का माहौल है, जिस के विरोध में आज उन लोगों ने काली पट्टियां बंद है। मोहम्मद हुसैन व राशिद ग्रामीणों की तो सरकार से बस यही मांग है कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए तथा पीडि़त परिवार को 50 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाए। इसके अलावा परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी भी दी जाए।

मृतक जुनैद के पिता जलालुद्दीन की मानें तो कल उनके पास जो विधायक आए थे व उनमें से सरकार का कोई भी विधायक नहीं था। अभी तक सरकार ने इस बारे में कोई भी संज्ञान नहीं लिया है। उनकी तो बस यही मांग है कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए तथा उन को सख्त सजा दिलाई जाए।


loading...
SHARE THIS

0 comments: