Saturday, June 24, 2017

3 साल में आर्थिक एवं सामाजिक रूप से कमजोर वर्गों में हुआ सुधार ; मेनका


पलवल (abtaknews.com) 24 जून,2017; केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार द्वारा गत तीन वर्षों के दौरान क्रियान्वित की गई योजनाओं के परिणामस्वरूप सभी वर्गों विशेषकर आर्थिक एवं सामाजिक रूप से कमजोर वर्गों का जीवन स्तर उपर उठ सका है। 

वर्तमान केन्द्र सरकार के तीन वर्षों के कार्यकाल के दौरान किए गए जनकल्याणकारी कार्यों व जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में फीड बैक लेने व जनसामान्य को अवगत करवाने की दिशा में श्रीमती मेनका गांधी ने पलवल(हरियाणा)में महात्मा गांधी सामुदायिक केन्द्र एवं पंचायत भवन में लोगों को सम्बोधित किया। केन्द्रीय मंत्री ने अपने सम्बोधन में कहा कि केन्द्र सरकार ने अपने तीन वर्षों के कार्यकाल के दौरान 92 जनकल्याणकारी योजनाएं क्रियान्वित की हैं। केन्द्रीय मंत्री ने कार्यक्रम के दौरान केन्द्रीय योजनाओं का फीडबैक लेते हुए कहा कि कार्यकर्ता जनसामान्य के मध्य जाएं और केन्द्र सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं के बारे में अवगत करवाएं ताकि सभी पात्र व्यक्तियों को सम्बधित योजनाओं का लाभ मिल सके। 
केन्द्रीय मंत्री ने बताया कि गत तीन वर्षों के दौरान देश में कुछ ऐसे सकारात्मक परिवर्तन हुए हैं,जो पहले कभी नहीं हुए। हरियाणा प्रदेश विशेषकर हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने हरियाणा प्रदेश में केन्द्रीय योजनाओं को बेहतर रूप से क्रियान्वित किया है और कुछ योजनाओं के क्रियान्वयन मेें हरियाणा अव्वल है। केन्द्रीय मंत्री ने अपने सम्बोधन में अनेक केन्द्रीय योजनाओं की सफलता के बारे में संक्षिप्त रूप में विवरण दिया। 
श्रीमती गांधी ने अपने सम्बोधन में कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत देश में घरों में तेजी से शौचालयों का निर्माण करवाया जा रहा है। जन-धन योजना के अंतर्गत 02.5 करोड़ लोगों के बैंक खाते खोले गए। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत 03.2 लाख करोड़ रूपये प्रदान किए गए। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना से 07.5 करोड़ लोग लाभान्वित हुए हैं। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से युवाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में मार्ग प्रशस्त हुआ है। उज्जवला योजना से गृहणियों का जीवन आसान हुआ है। सुकन्या समृद्धि योजना से बालिकाओं का भविष्य संरक्षित हुआ है और इस योजना के अंतर्गत 11000 करोड़ रूपये जमा हुए हैं। गुमशुदा बच्चों को ढूढ़ निकालने के लिए प्रथम बार राष्ट्र में कोई कारगर योजना क्रियान्वित की गई है। प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक़ योजना के अंतर्गत 01.30 करोड़ किलोमीटर लम्बी सडक़ों का निर्माण करवाया जा चुका है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से कृषि क्षेत्र संरक्षित एवं सुरक्षित हो सका है। मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना लागू की गई है। कृषि को लाभकारी व्यवसाय बनाने व वर्ष 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करने की दिशा में अनेक प्रयास किए जा रहे हैं। विशेषकर 101 कोल्ड चेन परियोजनाएं क्रियान्वित की जा रही हैं। महिलाओं के अधिकारों के संरक्षण के लिए पुलिस बल में महिलाओं हेतु 33 प्रतिशत आरक्षण सुनिश्चित हुआ है। महिलाओं की सहायता के लिए सखी केन्द्र स्थापित किए जा रहे हैं। शिशुओं का बेहतर रूप से पालन-पोषण सुनिश्चित करने के लिए जन्मदात्री माताओं (कामकाजी महिलाओं)के लिए छ: माह के अवकाश की व्यवस्था की गई है। पंचायती राज संस्थाओं की महिला प्रतिनिधियों के लिए प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई। वस्त्र उद्योग क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए 30 लाख महिलाओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। 
श्रीमती मेनका गांधी द्वारा पलवल जिला क्षेत्र में अधिक से अधिक वृक्षारोपण किए जाने के आहवान पर  मुख्यमंत्री के राजनैतिक सचिव श्री दीपक मंगला ने कहा कि पलवल जिला क्षेत्र में अधिक से अधिक वृक्षारोपण के लिए जनभागीदारी भी सुनिश्चित की जाएगी। पूर्व मंत्री श्री हर्ष कुमार ने केन्द्रीय मंत्री को क्षेत्र की कुछ समस्याओं से अवगत करवाया। कार्यक्रम में जिला परिषद की प्रधान श्रीमती चमेली देवी, श्रम कल्याण बोर्ड के वाईस चेयरमैन हरी प्रसाद गौतम, नगर परिषद, पलवल की चेयरमैन श्रीमती इन्दु भारद्वाज, भाजपा जिलाध्यक्ष जवाहर सिंह सौरोत, पूर्व विधायक रामरतन,जिला परिषद के उप प्रधान संतराम, पंचायत समिति पलवल के चेयरमैन पे्रमचन्द, गिर्राज डागर, पवन अग्रवाल, जय सिंह चौहान, मुकेश सिंगला, गंगालाल गोयल व राधेश्याम कालड़ा मौजूद थे। 
---------------------
पलवल, 24 जून। केन्द्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती मेनका गांधी ने कहा कि बच्चों का बेहतर रूप से पोषण सुनिश्चित करने के लिए केन्द्र सरकार गंभीरता से कार्य कर रही है और इस दिशा में अतिशीघ्र एक नया कार्यक्रम क्रियान्वित किया जाएगा। 
पलवल में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए केन्द्रीय मंत्री ने उक्त वक्तव्य दिया। केन्द्रीय मंत्री ने वृक्षारोपण के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सभी विद्यालयों को कम से कम 100-100 पौधे रोपित करने के साथ उनका पालन-पोषण भी करना चाहिए। संवाददाताओं द्वारा किए गए एक प्रश्र पर प्रतिक्रिया करते हुए श्रीमती मेनका गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा प्रारंभ किए गए बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान के अच्छे परिणाम सामने आए हैं। इस दिशा में हरियाणा व राजस्थान में असंतुलित लिंगानुपात को संतुलित करने की दिशा में किए गए कार्य अतंयंत ही प्रशसनीय हैं। इस दिशा में योजनाबद्ध रूप से कार्य करने से अच्छे परिणाम आ सके  हैं। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: