Monday, May 8, 2017

नगर निगम मुख्यालय पर अपनी मांगों को लेकर कर्मचारियों ने किया प्रदर्शन


फरीदाबाद (abtaknews.com) नगर निगम मुख्यालय पर कर्मचारिओं ने अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन किया। 

फरीदाबाद नगर निगम बचाओ संघर्ष समिति एवंम अखिल भारतीय सफाई मजदूर संघ के तत्वावधान में नगर निगम मुख्यालय पर अनिशिचतकालीन धरना शुरू कर दिया है। धरने की अध्यक्षता अखिल भारतीय सफाई मजदूर संघ के प्रान्तीय महामंत्री भाई सुनील कन्डेरा ने की व मंच का संचालन संघर्ष समिति के सचिव जीत राम ने किया। इस अवसर पर संघर्ष समिति के प्रधान देविन्द्र सिंह अधाना, महासचिव सुरेश कुमार, महेश शर्मा ने धरने को सम्बोधित करते हुए कहा कि नगर निगम प्रशासन के अंदर कर्मचारियों का शोषण तािा भ्रष्टाचार अपनी चरम सीमा पर है। एक तरफ जहां इन्कवायरी के नाम पर भ्रष्टाचार  को लगातार बढावा मिल रहा है वही निगमायुकत के प्रयासों पर खुद निगम के अधिकारी ही पलीता लगा रहे है।  जिस पर भ्रष्टाचार करने वालों के हौंसले बुलंद हो रहे है। संघर्ष समिति के प्रधान देविन्द्र अधाना ने कहा कि भ्रष्टाचार अब किसी भी तरह बर्दाश्त नही किया जायेगा। हरियाणा सरकार व निगम प्रशासन को भ्रष्टाचार के खिलाफ लगातार  बताने के बावजूद कोई कार्यवाही ना होने से परेशान होकर ही हमें अनिश्चित कालीन धरना शुरू करना पड है। धरने को सम्बोधित करते हुए अखिल भारतीय सफाई मजदूर संघ के प्रान्तीय  महामंत्री भाई सुनील कण्डेरा ने कहा कि ओल्ड जोन व बल्लभगढ जोन में कार्यरत सफाई कर्मचारियों की हाजरी रेगूलर मस्ट्रोल पर लगाने के लिए हरियाणा सरकार ने वर्ष 2013 के नवम्बर में आर्डर कर दिये थे परंतु आज तक निगम प्रशासन अनुबंध आधार लगाकर आज तक की रेगूलर मस्ट्रोल नहीं लागू कर रहा है। जिससे इन कर्मचारियों का भविष्य खराब किया जा रहा है। दूसरी तरफ वर्ष 2014 में रेगूलर हुए कर्मचारियों की डेट आज बर्थ पर भी निगम अधिकारी कोई भी जरूरी कार्यवाही नहीं कर रहे है। जिससे पता चलता हे थ्क निगम अधिकारी खुद अपने कर्मचारियों की सर्विस को लेकर गंभीर नही है। उन्होंन ेऐलान किया कि जब तक इन सभी मागों पर कार्यवाही नहीं होती तब तक अनिश्चित कालीन धरना जारी रहेगा। आज इस धरने को रामेश्वर, जयवीर, अमन सिंह, अमर सिंह, वेदपाल, पूरन सिंह, सुबोधन, रामपाल, मूर्ति देवी, सुखबीर, चरण सिंह, काशीराम, विक्रम, ओमप्रकाश, राधा कृष्ण, लक्ष्मण, रतयुग, दीना नाथ, सुनील कुमार, रणसिंह आदि उपस्थित थे।




loading...
SHARE THIS

0 comments: