Saturday, May 13, 2017

राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने सर्वश्रेष्ठ पत्रकारिता के लिए हिंदुस्तान के वरिष्ठ पत्रकार अशोक शर्मा को किया सम्मानित



पानीपत(abtaknews.com )  विश्व संवाद केंद्र द्वारा आयोजित नारद मुनि जयंती समारोह में पहुंचे राज्यपाल सोलंकी , आर्य पी जी कॉलेज में आयोजित समारोह में सर्वश्रेष्ठ पत्रकारिता के लिए हिंदुस्तान के वरिष्ठ पत्रकार अशोक शर्मा को सम्मानित किया गया।   प्रदेश के महामहिम राज्यपाल प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि ब्रह्मांड के आदि पत्रकार देवर्षि नारद हमेशा ही जन कल्याण के लिए काम करते थे लेकिन आज समाज में देवर्षि नारद के प्रति लोगों में गलत धारणा बनी हुई है। मीडिया के प्रति भी समाज में ठीक इसी प्रकार की धारणा पैदा हो रही है। जबकि मीडिया तो लोगों को जागरूक कर समाज निर्माण का काम करने वालों की अग्रीम पंक्ति में है। मीडिया लोकतंत्र का चौथा सतंभ है। बशर्त यह है कि पत्रकार निस्वार्थ भाव से समाजहित के लिए कार्य करते हुए समाज में सद्भावना, समरसता बनाने के समाचारों को प्रमुखता से प्रस्तुत करें। राज्यपाल शनिवार को आर्य पीजी कॉलेज में आयोजित प्रदेश स्तरीय पत्रकार सम्मान समारोह व संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर कार्यक्रम में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उत्तर क्षेत्र संघचालक डॉ. बजरंग लाल गुप्त मुख्यवक्ता तथा प्रेस रजिस्ट्रार एवं हैड ऑफ डिपार्टमेंट, आरएनआई से एसएम खान विशिष्ठ अतिथि के तौर पर मौजूद रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता डायर्ज एसोसिएशन के अध्यक्ष भीम राणा ने की।  पत्रकारिता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 9 पत्रकारों को राज्यपाल द्वारा सम्मानित किया गया। 
राज्यपाल ने कहा कि विश्व संवाद केंद्र पत्रकारों के हित के लिए कई वर्षों से कार्य कर रहा है। हरियाणा प्रांत में वर्ष 1992 में विश्व संवाद केंद्र की स्थापना हुई थी। विश्व संवाद केंद्र की स्थापना का मुख्य उद्देश्य देश की जनता के साथ बेहतर संवाद स्थापित कर देश को सही दिशा में आगे बढ़ाना है और यह तभी संभव हो सकता है जब देश की जनता जागरूक होगी। जनता को जागरूक करने का एकमात्र विकल्प मीडिया है। विश्व संवाद केंद्र मीडिया के माध्यम से जनता के साथ संपर्क व संवाद स्थापित करने के साथ-साथ सेवा का काम कर रहा है। उन्होंने 1975 में देश में लगे आपातकाल तथा 1977 के चुनाव का जिक्र करते हुए कहा कि देश की जनता ने चुनाव परिणाम में आपातकाल लागू करने वाले नेताओं को उनकी गलती का एहसास करवाते हुए उन्हें सत्ता से बाहर कर दिया।  चुनाव के बाद जो परिवर्तन होता है तो वह ईवीएम में गड़बड़ी करके नहीं बल्कि जनमत के कारण होता है। जनमत में बड़ी ताकत होती है लेकिन यह ताकत नकारात्मक दिशा की तरफ नहीं बढ़े इसके लिए  मीडिया को अपनी जिम्मेदारी निभानी चाहिए। पत्रकार का काम पेड न्यूज प्रकाशित करने का नहीं बल्कि समाज में पारदर्शिता लाने का है।  उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद लोगों को भूतकाल की बजाए हमेशा वर्तमान में ही जीने और सदा प्रसन्न रहने का भी आह्वान किया।  
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के उत्तर क्षेत्र संघचालक डॉ. बजरंग लाल गुप्त ने कहा कि पत्रकार समाज का आइना होता है, वह किसी भी घटनाक्रम को जिस तरीके से समाज के सामने प्रस्तुत करता है समाज उस पर आंख बंद करके विश्वास कर लेता है। इसलिए पत्रकारों का भी यह दायित्व बनता है कि वह इस विश्वास को कायम रखने के लिए निष्पक्ष तौर पर पत्रकारिता करें। भीम सिंह राणा ने कहा कि पत्रकारों को सकारात्मक समाचारों की तरफ ध्यान देना चाहिए। विश्व संवाद केंद्र के अध्यक्ष डॉ. संजय शर्मा ने कहा कि हर वर्ग के लिए उनके आदि देव की पूजा-अर्चना का दिन समाज में निश्चित है लेकिन पत्रकारों के लिए इस तरह का कोई दिन निश्चित नहीं था। इसलिए विश्व संवाद केंद्र ने पत्रकारों के आदि गुरू व ब्रह्मांड के प्रथम पत्रकार देवर्षि नारद की जयंती को इसके लिए निश्चित किया है। 

अंग्रेजी की बजाए हिंदी का बढ़ रहा है क्रेज; - प्रेस रजिस्ट्रार एवं हैड ऑफ डिपार्टमेंट, आरएनआई से एसएम खान ने बताया कि देश में पिं्रट मीडिया का तेजी से विस्तार हो रहा है। देश में एक लाख दस हजार समाचार पत्र पंजीकृत हैं। पिछले वर्ष छह हजार समाचार पत्र पंजीकृत हुए हैं। इसमें देखने की बात यह है कि पंजीकृत होने वाले इन समाचार पत्रों में अंग्रेजी की बजाए हिंदी के समाचार पत्रों की संख्या बहुत ज्यादा है। 

इन-इन पत्रकारों को किया गया सम्मानित;-सम्मान समारोह में वर्ष 2016-17 में उत्कृष्ट कार्य करने वाले पत्रकारों को सम्मानित किया गया।  इसमें देवर्षि नारद आजीवन उत्कृष्ट सेवा सम्मान से रोहतक से वरिष्ठ पत्रकार सोमनाथ को, देवर्षि नारद पत्रकारिता सेवा सम्मान से महेंद्रगढ़ से स्व. रमेश कुमार को, हरियाणा पत्रकारिता गौरव नारद सम्मान से पानीपत से देवेंद्र कथूरिया को, महिला पत्रकारिता गौरव नारद सम्मान से पंचकूला निवासी सुमन बाला को सम्मानित किया गया।  इसके अलावा  उत्कृष्ट फोटो पत्रकारिता नारद सम्मान से जींद से विजेेंद्र मराठा को, नवोदित पत्रकार नारद सम्मान से कुरूक्षेत्र से वेदपाल को, नागरिक पत्रकारिता नारद सम्मान से अंबाला से डॉ. जयप्रकाश को, ग्रामीण विषयक पत्रकारिता नारद सम्मान से महेंद्रगढ़ से होशियार सिंह को, सामाजिक सरोकार पत्रकारिता नारद सम्मान से फरीदाबाद से अशोक शर्मा को सम्मानित किया गया। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: