Monday, May 29, 2017

सिक्खों के पांचवे गुरू अर्जुन देव के शहीदी दिवस पर शान्ति पाठ का आयोजन



फरीदाबाद 29 मई,2017(abataknews.com ) सिक्खों के पांचवे गुरू अर्जुन देव जी शहीदों के सरताज, शान्ति के पुंज, बाणी के बोहिद श्री हरमिन्दर साहिब के रचनहार, श्री सुखमनी साहिब के रचेता  जी के शहीदी दिवस पर गुरूद्वारा सिंघ सभा सैक्टर 15, फरीदाबाद में गुरूमत समर कैम्प के द्वारा सिखाएं गये बच्चों ने मनमोहन कीर्तन कर संगतों का मन मोह लिया। इस मौके पर पंचनद सेना के चेयरमैन प्रेम दीवान, जिलाध्यक्ष टेकचंद (टोनी पहलवान), महासचिव स. कुलदीप सिंह साहनी, तजेन्द्र व सर्वजीत सिंह ने संयुक्त रूप से उपस्थित जनों को सम्बोधित करते हुए कहा कि गुरू अर्जुन देव सिखों के पांचवें गुरू थे। गुरु अर्जुन देव जी शहीदों के सरताज एवं शान्तिपुंज हैं। आध्यात्मिक जगत में गुरु जी को सर्वोच्च स्थान प्राप्त है। उन्हें ब्रह्मज्ञानी भी कहा जाता है। गुरुग्रंथ साहिब में तीस रागों में गुरु जी की वाणी संकलित है। गणना की दृष्टि से श्री गुरुग्रंथ साहिब में सर्वाधिक वाणी पंचम गुरु की ही है।
उन्होंने बताया कि ग्रंथ साहिब का संपादन गुरु अर्जुन देव जी ने भाई गुरदास की सहायता से 1604में किया। ग्रंथ साहिब की संपादन कला अद्वितीय है। जिसमें गुरु जी की विद्वत्ता झलकती है। उन्होंने रागों के आधार पर ग्रंथ साहिब में संकलित वाणियों का जो वर्गीकरण किया है। उसकी मिसाल मध्यकालीन धार्मिक ग्रंथों में दुर्लभ है। यह उनकी सूझबूझ का ही प्रमाण है कि ग्रंथ साहिब में 36महान वाणीकारोंकी वाणियां बिना किसी भेदभाव के संकलित हुई।
उन्होंने कहा कि आज के दिन गुरू अर्जुन देव जी सन 1963 में जहांगीर के जुल्मों को सहते हुए ज्योतिजोत समा गये और इस उपलक्ष्य पर पूरे देश में मीठी छबील बांटी जाती है व इन कार्यक्रमों जैसे गुरूमुख समर कैम्प के द्वारा किया गया है इससे बच्चो को गुरू इतिहास के बारे में पता चलता है और अपने समाज से जुडऩे का एक अच्छा अवसर मिलता है। इस मौके पर सैक्टर 15 की गुरूद्वारा प्रबंधक कमेटी व जितेन्द्र कौर रूबी व मंजीत कौर द्वारा भी बच्चो को प्रोत्साहित किया गया और इसके उपरांत भाई साहिब भाई जुझार सिंह हजुरी रागी जत्था श्री हरमिन्दर साहिब वालों ने कीर्तन किया व उसके उपरंात लंगर का वितरण किया गया।
इस मौके पर युवा चेयरमैन विजय कंठा, युवा प्रधान अनिल, महिला प्रकोष्ठ प्रधान जगजीत कौर व महिला प्रकोष्ठ की महासचिव रशमीन कौर चड्डा सहित अन्य सेना के पदाधिकारी मौजूद थे।


loading...
SHARE THIS

0 comments: