Saturday, May 20, 2017

एडवोकेट ने फरीदाबाद तहसीलदार के खिलाफ मुकदमें के लिए दी शिकायत



फरीदाबाद (abtaknews.com) 20 मई,2017; तहसील कार्यालय में सत्यापित कॉपी प्रान्त न होने पर जिला बार एसोसिएसन के महामन्त्री सतबीर शर्मा एडवोकेट ने थाना सैन्ट्रल सैक्टर-12 में तहसीदार के खिलाफ कार्यवाही करने के लिए शिकायत की उन्होने कहा कि दिनांक 12$04$2017 को दरखास्त रजिस्ट्रार कार्यालय में दी थी। लेकिन रिकोर्डकीपर ने दरखास्त पर नोट लिख कर दिया कि यह दस्तावेज हमें प्राप्त नही जबकि हमारे पास उपरोक्त बयनामा की रजिस्ट्रशुदा रसीद है। तहसील कार्यालय में इससे पहले भी भष्ट्राचार व गडबडिया होती रही है। तकरीबन 150-200 बयनामें ऐसे है जिनका रिकार्ड बही में दर्ज ही नही है। अगर ऐसा एक वकील के साथ होता है तो आम जनता को तहसील कार्यालय में कार्य करवाना काफी मुश्किल है। अभी हाल ही में तहसील के चार कर्मचारियो को सस्पेन्ड किया गया है। तहसील के कोईघ्भी कर्मचारी अपनी जिम्मेवारी का ठीक से निर्वाह नही करते और किसी भी काम को करने के लिए जनता से मैहनताना मांगते है और उम्मीद से कम पैसा मिलने पर कागजो में ऑबजैक्शन लगा देते है। इससे पहले भी उपायुक्त महोदय ने तहसील कार्यालय में सभी कर्मचारियो को ईमानदारी से कार्य करने की शपथ दिलवाईघ्थी। और हवन करके तहसील का वातावरण शुद्घ करने का भी प्रयास किया था। लेकिन इसके बाद भी दस्तावेज गुम होने से पता चलता है कि तहसील के कर्मचारी ठीक प्रकार से अपना कार्य नही कर रहे है। बार काउंसिल पंजाब एण्ड हरियाणा अनुसासन व निगरानी कमेटी के मनोनित सदस्य शिवदत्त वशिष्ठ एडवाकेट ने कहा कि ऐसे लापरवाह कर्मचारियो की वजह से सरकार की छवी खराब हो रही है। सरकार के अभूतपुर्व विकास कार्य करने के बावजूद तहसील कार्यालय में जनता की शिकायते रहती है। इस मौके पर चैयरमैन कंवर दलपत सिंह, सुखराम जाखड, ओ$पी$ यादव, सतीश चौहान, छैलमोहन गौतम, बिना सोलंकी, कुलदीप जोशी, धमेन्द्र फोगाट, आदि मौजूद थे। 


loading...
SHARE THIS

0 comments: