Thursday, May 4, 2017

स्वच्छ भारत रैंकिंग में फरीदाबाद शामिल, मेयर सुमन बाला हुई सम्मानित


फरीदाबाद 4 मई,2017(abtaknews.com ) केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय की ओर से स्वच्छ भारत रैंकिंग में फरीदाबाद को अप्रत्याषित रूप से 88वां स्थान प्राप्त हुआ है। शहरी विकास मंत्रालय की तरफ से देष भर के 434 शहरों का सर्वेक्षण जनवरी-फरवरी 2017 में कराया गया था। इस स्वच्छता सर्वेक्षण को लेकर केन्द्रीय शहरी विकास मंत्रालय की टीम दो बार शहर में सर्वेक्षण करके गई थी। आज जारी रैकिंग में फरीदाबाद को अप्रत्याषित रूप से 88वां  स्थान प्राप्त हुआ है। जबकि अक्टूबर 2014 में इसी स्वच्छता रैकिंग में फरीदाबाद को 421 वां स्थान प्राप्त हुआ था। यह जानकारी देते हुए निगम की निगमायुक्त श्रीमति सोनल गोयल ने बताया कि शहरी विकास मंत्रालय की ओर से जारी की गई 434 षहरों की सूची में फरीदाबाद को टॉप 25 प्रतिषत स्थान मिलना एक गौरव की बात है। फरीदाबाद नगर निगम ने वर्ष 2014 के मुकाबले अच्छी छलांग लगाई है और इतनी उची छलांग लगाकर फरीदाबाद देष का पहला शहर बना इसलिए फरीदाबाद को 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में भारत वर्ष में सबसे तेजी से स्वच्छता रखने में प्रथम स्थान दिया गया है। माननीय मुख्यमंत्री मनोहर लाल खटटर ने स्वच्छता अभियान की इस रैकिंग में फरीदाबाद को बधाई दी है।  इसके अतिरिक्त फरीदाबाद शहर को उत्तरी जोन में स्वच्छता के पैमाने पर  छठा स्थान व हरियाणा राज्य में दूसरा स्थान प्राप्त हुआ है।  

निगमायुक्त श्रीमति सोनल गोयल ने यह भी बताया कि फरीदाबाद शहर हरियाणा का सबसे अधिक जनसंख्या वाला शहर है। इतनी बड़ी जनसंख्या, अनियोजित विकास व सीमित संसाधनों के बावजूद एक वर्ष में स्वच्छता की रैकिंग में इतनी ऊंची उछाल न केवल प्रषंसनीय है अपितु अविस्मरणीय है। इस ऊंची छलांग का श्रेय नगर निगम फरीदाबाद के कर्मठ सफाई कर्मचारियों, अधिकारियों, फरीदाबाद की जनता, स्वयंसेवी संस्थाओं और चुने हुए प्रतिनिधियों को जाता है जिनके द्वारा फरीदाबाद षहर को साफ-सुथरा बनाने के लिए दिलों जान से मेहनत की गई है।

निगमायुक्त ने सर्वेक्षण टीम द्वारा फरीदाबाद में की जा रही विंडो कम्पोसटिंग के प्रयासों की सराहना की गई साथ ही रात्रि सफाई अभियान तथा सामूहिक स्व्च्छता शपथ दिलाने के प्रयास का विषेष रूप से उल्लेखनीय योगदान रहा। यहां यह बता दे कि फरीदाबाद में हुई मैराथन रेस जो कि सुरक्षित व साफ शहर के उदेष्य से की गई थी में लगभग 40 हजार लोगों को एक साथ सामूहिक स्वच्छता शपथ दिलाई गई थी।  पिछले लगभग एक वर्ष में सामुदायिक शौचालय , पब्लिक शौचालय के रखरखाव पर विषेष ध्यान दिया गया तथा जगह-जगह पर डस्टबिन का भी प्रबंध किया गया था। शहर को खुले में शौचमुक्त कराने की दिषा में विषेष प्रयास किए जा रहे हैं इसके लिए लगभग 150 मोबाइल टॉयलट शहर में विभिन्न वार्डों में स्थापित किए गए है ताकि लोग इनका उपयोग करें तथा शहर को खुले में शौच मुक्त कराने में अपना सहयोग दे पाए। शहर को स्वच्छता हेतू नागरिकों को जागरूकता करने के लिए कवि सम्मेलन, कर्मयोग तथा दूरदृष्टि वर्कषॉप का भी आयोजन किया गया था। इसके अतिरिक्त नुक्कड़ नाटक, कठपुतली खेल और शहर में कई जगह स्वच्छता जागरूकता रैली निकाल कर स्वच्छता अभियान को सफल बनाया है। सूरजकुंड मेले में भी स्वच्छता अभियान को लेकर नगर निगम की टीम ने प्रदर्षनी का भी आयोजन स्वच्छता जागरूकता की एक अच्छी पहल थी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: