Thursday, May 18, 2017

मिशन इन्द्रधनुष के अंतर्गत टीकाकरण में दे सहयोग;-अशोक शर्मा


हथीन(पलवल),18 मई,2017(abtaknews.com)बच्चे राष्ट्र का भविष्य  है, हमे उनके स्वास्थ्य के प्रति सजग व संवेदनशील रहना चाहिए। यह विचार उपायुक्त अशोक कुमार शर्मा ने मिशन इन्द्रधनुष चरण-4 जिला पलवल में स्वास्थ्य विभाग द्वारा सभी बच्चों का टीकाकरण सुनिश्चित करने के अभियान को लेकर हथीन लघु सचिवालय में आयोजित सरपंच, मौलवी तथा मौजिज व्यक्तियों की एक बैठक को सम्बोधित करते हुए व्यक्त किए।  
उपायुक्त ने सरपंच, मौलवी तथा मौजिज व्यक्तियों से आहवान किया कि वे मिशन इन्द्रधनुष चरण-4 जिला पलवल में सभी बच्चों का टीकाकरण सुनिश्चित करने के अभियान को शतप्रतिशत सफल बनाने में स्वास्थ्य विभाग का पूर्ण सहयोग करें ताकि दो वर्ष से कम उम्र के सभी बच्चों व गर्भवती महिलाओं का सम्पूर्ण टीकाकरण किया जा सके। उन्होंने कहा कि यह अभियान 22 मई तक चलेगा। अभियान का उद्वेश्य है कि स्वास्थ्य की दृष्टि से सभी बच्चे व गर्भवती महिलाएं स्वस्थ रहें। 
उपायुक्त ने कहा कि टीकाकरण से बच्चों को गलघोटू,पोलियो,टीबी,काली खांसी,हेपेटाइटिस बी, हिमोफिलस इंफ्लुएंजा बी(निमोनिया), दिमागी बुखार,टेटनस और खसरा आदि बीमारियों से मुक्ति मिलेगी। उपायुक्त ने चिकित्सा अधिकारियों को  निर्देश दिए कि 0-2 वर्ष तक के बच्चों व सभी गर्भवती माताओं को टीकाकरण करना सुनिश्चित किया जाए। 
इस अवसर पर उन्होंने कहा कि हथीन अस्पताल में एक अल्ट्रासाउण्ड मशीन उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि शहरों की तर्ज पर गांवों में सुविधाएं उपलब्ध करवाने के लिए  बड़े गांवों में सामुदायिक केन्द्र बनाए जाने तथा अगले एक महीने में लगभग दर्जन भर गावों में स्वच्छ पेयजल के लिए आर.ओ. प्लाट लगाए जाने की योजना है। उन्होंने कहा कि उन्हें जो सभी समस्याएं बताई गई हैं उन समस्याओं का समाधान किया जाएगा। 
बैठक में हथीन के उपमण्डल अधिकारी(ना.)मुनीष शर्मा ने कहा कि हथीन क्षेत्रवासियों से अपील की कि इस मिशन इन्द्रधनुष टीकाकरण कार्यक्रम में सभी क्षेत्रवासी प्रशासन को अपना पूर्ण सहयोग दें ताकि क्षेत्र का कोई भी बच्चा एवं गर्भवती महिला टीकाकरण से वंचित न रहे। 
उप सिविल सर्जन डॉ. लोकवीर ने कहा कि बच्चों को बिमारियों से बचाने के लिए यह टीकारकण बहुत जरूरी है। यह कार्यक्रम दिसम्बर 2014 में भारत सरकार द्वारा प्रस्तावित किया गया था। जिसका क्रियान्वन 07 अप्रैल 2015 को 28 राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशो में किया गया।
इस अवसर पर मौलाना कासिम टोंका, मुफ्ती जररार, कारी रफीक, मौ0 जकरिया मलाई ने कहा कि हमे अफवाहों से सावधान रहना होगा। उन्होंने कहा कि हम सभी को गांव में टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम को अपना पूर्ण सहयोग देना होगा। उन्होंने कहा कि मिशन इन्द्रधनुष बच्चों के स्वास्थ्य के लिए एक उत्तम अभियान है।  बैठक में अमरू पहलवान सापनकी, मौलाना अनवर, उदय सिंह सरपंच फिरोजपुर राजपूत, पंडित मोतीराम ने अपने-अपने विचार रखे। सभी ने बच्चों को स्वस्थ रखने के लिए और  मिशन इन्द्रधनुष अभियान को सफल बनाने में स्वास्थ्य विभाग का पूर्ण सहयोग करने का आश्वान दिया। गीता देवी सरपंच जनाचौली ने क्षेत्र की लड़कियों को शिक्षा दिलवाने पर बल दिया। 
बैठक में जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ. विवेक गेरा, स्टेट कोऑर्डिनेटर श्रीमती सरिता, डॉ. अश्वनि कौशिक, अमनीत कौर, जिला आशा कोऑर्डिनेटर मधु चौधरी, चिकित्सा अधिकारी डॉ. ललित, डॉ. कौशल, डॉ. मनमोहन, डॉ. पंकज, डॉ. ज्योति रावत, सीडीपीओ श्रीमती मंजू व आई.ई.सी. इंचार्ज शक्ति सिंह रावत सहित गांवों के सरपंच, मौलवी व मौजिज व्यक्ति मौजूद थे। 

loading...
SHARE THIS

0 comments: