Thursday, May 18, 2017

स्वच्छ फरीदाबाद एक अभियान के तहत मोटीवेशन वर्कशॉप का आयोजन




फरीदाबाद  18 मई,2017(abtaknews.com ) स्वच्छ फरीदाबाद एक अभियान-सबके साथ से हो शहर का विकास को लेकर आज नगर निगम सभागार में स्वच्छ फरीदाबाद एक अभियान के तहत मोटीवेषन वर्कशॉप  का आयोजन नगर निगम की निगमायुक्त सोनल गोयल, उपमहापौर मनमोहन गर्ग, अतिरिक्त आयुक्त पार्थ गुप्ता, चीफ इंजीनियर डी.आर. भास्कर, अनिल महता, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी श्याम सिंह, कार्यकारी अभियंता रमेष बंसल, सफाई कर्मचारी यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने दीप प्रज्जवलित करके किया। मंच का संचालन प्रसिद्ध कवि दिनेष रघुवंषी ने किया। इस मौके पर प्रसिद्ध उद्योगपति के.सी. लखानी, नगर निगम की पार्षद सपना डागर, हेमा चैधरी, सुभाष आहूजा, महेन्द्र सरपंच, नरेष नंबरदार, कुलवीर सिंह, हरप्रसाद गौड, उमा सैनी सहित निगम के समस्त सफाई कर्मचारी भी मौजूद थे।

इस मौके पर निगमायुक्त श्रीमती सोनल गोयल ने बताया कि स्वच्छता रैकिंग में फरीदाबाद को 434 शहरों में अप्रत्याषित रूप से 88वां स्थान मिलना एक गौरव की बात है। स्वच्छता की रैकिंग में स्टेट में फरीदाबाद नंबर-2 पर और नार्थ जोन में नंबर-6 पर आया है। आज की वर्कषाॅप में मैं समस्त निगम अधिकारियों, कर्मचारियों और सफाई कर्मचारियों का तहे दिल से धन्यवाद करती हूं कि उन्होंने स्वच्छ भारत मिषन के तहत फरीदाबाद को साफ-सुथरा बनाने में अपना भरपूर सहयोग किया और मेरा प्रयास है कि आगे भी इसी सहयोग के साथ निगम के समस्त अधिकारी व कर्मचारी शहर में सफाई व्यवस्था को दुरूस्त रखेंगे। सोनल  गोयल ने सफाई अभियान में विषेष योगदान देने वाले सफाई कर्मचारियों को सम्मानित भी किया। इस अवसर पर सफाई यूनियन के प्रधान बलवीर सिंह बालगुहेर ने कहा कि यह सफाई कर्मचारियों के सम्मान नहीं बल्कि गौरव की बात है कि फरीदाबाद स्थापना केे बाद निगम में पहली बार किसी कमिषनर ने सफाई कर्मचारियों को सम्मान देकर उनकी हौंसला आफजाई की है, जिनका मैं तहेदिल से धन्यवाद करता हूं।
श्रीमति गोयल ने सफाई कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि  फरीदाबाद शहर हरियाणा का सबसे अधिक जनसंख्या वाला शहर है। इतनी बड़ी जनसंख्या, अनियोजित विकास व सीमित संसाधनों के बावजूद एक वर्ष में स्वच्छता की रैकिंग में इतनी ऊंची उछाल न केवल प्रषंसनीय है अपितु अविस्मरणीय है। इस ऊंची छलांग का श्रेय नगर निगम फरीदाबाद के कर्मठ सफाई कर्मचारियों, अधिकारियों, फरीदाबाद की जनता, स्वयंसेवी संस्थाओं , आरडब्ल्यूए और चुने हुए प्रतिनिधियों को जाता है । उन्होंने कहा कि निगम ने स्वच्छ भारत मिषन के तहत स्वच्छ फरीदाबाद अभियान की शुरूआत सन 2014 में शुरू की थी। इन तीन सालों में सफाई कर्मचारियों की मेहनत न केवल रंग लाई अपितु स्वच्छ फरीदाबाद-स्वस्थ फरीदाबाद को भी बढ़ावा मिला। उन्होंने कहा कि स्वच्छ फरीदाबाद अभियान को सफल बनाने के लिए हमने वर्ष 2014 में इसकी शुरूआत कर दी थी। इसी के साथ निगम प्रषासन समय≤ पर सामाजिक संस्थाओं और आरडब्ल्यूए और जगह-जगह सफाई अभियान चलाया अपितु शहर की दीवारों पर स्वच्छता के संदेष बनाकर लोगों में स्वच्छता के प्रति जागरूक किया। उन्होंने फरीदाबाद इंडस्ट्रीज का भी सफाई अभियान में विषेष योगदान रहा है जिन्होंने अपने खर्चें पर निगम को 40 रिक्षे 70 रेहड़िया और 4 जेसीबी मुहैया कराई। मैराथन दौड में 42 हजार लोगों को सेक्टर-12 में स्वच्छता शपथ दिलाई गई। स्वच्छता अभियान में विषेष योगदान देने समाजसेवियों, सेलिब्रिटीज को स्वच्छाग्रही बनाया गया। प्रत्येक शनिवार को हर वार्ड में सफाई अभियान चलाकर शहर की सफाई व्यवस्था को भी दुरूस्त किया गया। कहा कि पिछले लगभग एक वर्ष में सामुदायिक शौचालय , पब्लिक शौचालय के रखरखाव पर विषेष ध्यान दिया गया तथा जगह-जगह पर डस्टबिन का भी प्रबंध किया गया था। शहर को खुले में शौचमुक्त कराने की दिषा में विषेष प्रयास किए जा रहे हैं इसके लिए लगभग 150 मोबाइल टाॅयलट शहर में विभिन्न वार्डों में स्थापित किए गए है ताकि लोग इनका उपयोग करें तथा शहर को खुले में शौच मुक्त कराने में अपना सहयोग दे पाए।
निगमायुक्त गोयल ने बताया कि 5 जून से पर्यावरण दिवस मनाया जा रहा है। सफाई अभियान के लिए डोर टू डोर कूड़ा क्लैक्षन किया जाएगा। शहर के अलग-अलग स्थानों पर दो तरह के हरे और नीले रंग बड़े-बड़े डस्टवीन रखे जाएंगे। गीले कचरे को हरे डस्टवीन में तथा सूखे कचरे को नीले डस्टवीन में डालने के लिए लोगों को जागरूक किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शहर का कूड़ा बंधवाड़ी प्लांट में जाता है जहां कूड़े का उपयोग खाद्य बनाने के लिए किया जा रहा है। शहर से प्रतिदिन कूड़ा उठाने के लिए निगम प्रषासन  कूड़े की गाड़ियों में जीपीएस सिस्टम लगा रखा है जिससे पता चलता है कि प्रतिदिन कूड़ा उठ रहा है या नहीं।


loading...
SHARE THIS

0 comments: