Friday, May 5, 2017

शोध कार्यों की गुणवत्ता के लिए ई-संसाधनों का करें ज्यादा से ज्यादा उपयोगः कुलपति प्रो. दिनेश



फरीदाबाद, 5 मई,2017(abtaknews.com) वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद द्वारा ई-संसाधनों के अनुकूलतम उपयोग को सुनिश्चित बनाने के दृष्टिगत ‘ई-संसाधनों की खोज व उपयोग का सही तरीका’ विषय पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। विश्वविद्यालय पुस्तकालय की देखरेख में आयोजित कार्यशाला में काफी संख्या में विश्वविद्यालय के संकाय सदस्यों तथा शोधकर्ताओं ने हिस्सा लिया।कार्यशाला का उद्घाटन कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने किया तथा ई-संसाधनों के उपयोग के प्रति जागरूकता के लिए कार्यशाला आयोजित करने पर पुस्तकालय की सराहना की। अपने संबोधन में कुलपति ने कहा कि विश्वविद्यालय द्वारा प्रतिवर्ष पुस्तकालय पर होने वाले खर्च का बड़ा हिस्सा ई-संसाधनों पर खर्च होता है तथा सभी संकाय सदस्यों व शोधार्थियों को सुविधा है कि वे पुस्तकालय के ई-संसाधनों को घर या किसी अन्य जगह से भी उपयोग कर सकते है। इसलिए सभी को ई-संसाधनों के उपयोग की सही जानकारी होना जरूरी है ताकि सही जानकारी सही माध्यम से मिले।

कुलपति ने संकाय सदस्यों के टाइम टेबल निर्धारण को लेकर संकाध्याध्यक्ष  (अकादमिक मामले) को सुझाव दिया कि संकाय सदस्यों के लिए समय सारणी तैयार करते हुए इस बात का ध्यान रखें कि वे पुस्तकालय के लिए भी समय निकाल सके। उन्होंने कहा कि ई-संसाधनों के उपयोग से शोध कार्यों की गुणवत्ता में भी सुधार होगा उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए पुस्तकालय समिति के सदस्य प्रो. राज कुमार ने कहा कि ऐसी कार्यशालाएं संकाय सदस्यों व शोधकर्ताओं को अनुसंधान कार्यों में आने वाली समस्याओं के समाधान और अनुसंधान के लिए सही जानकारी जुटाने में मदद करती है।

इससे पूर्व, सभी प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए लाइब्रेरियन श्री पी.एन. बाजपेयी ने विश्वविद्यालय के पुस्तकालय में दी जा रही सुविधाओं का ब्यौरा प्रस्तुत किया तथा कार्यशाला के महत्व व प्रयोजन की जानकारी दी। श्री बाजेपयी ने संकाय सदस्यों व शोधार्थियों ई-संसाधनों के उपयोग में होने वाली समस्याओं का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि कार्यशाला के माध्यम से सभी संकाय सदस्यों को अवसर मिलता है कि वे ई-प्रकाशकों से सीधे संपर्क कर सके और ई-संसाधनों के उपयोग के दौरान आने वाली समस्याओं का समाधान पा सके।कार्यशाला के तकनीकी सत्र के दौरान एल्सवियर, स्प्रिंगर, टेलर एंड फ्रेंसिज, जीआईएसटी, जेस्टोर, इंफोमेटिक व डेलनेट इत्यादि संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने ई-संसाधनों के उपयोग पर प्रस्तुति दी तथा ई-संसाधनों की खोज व उपयोग के सही तरीकों की जानकारी दी।

loading...
SHARE THIS

0 comments: